.....

इमरान खान ने रद्द किया राष्ट्र के नाम संबोधन, विपक्ष ने शाहबाज शरीफ को बनाया पीएम उम्मीदवार

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान का बुधवार को देश के नाम संबोधन स्थगित कर दिया गया है। पीटीआई के सीनेटर फैसल जावेद खान ने इसकी जानकारी दी। उन्होंने ट्विटर हैंडल पर लिखा, 'पीएम खान का राष्ट्र के नाम संबोधन आज के लिए कैंसिल कर दिया गया है।' ऐसा कहा जा रहा कि इमरान खान का यह फैसला सेना के जनरल कमर जावेद बाजवा से मिलने के बाद आया है। पाकिस्तान के सेना प्रमुख बाजवा, आईएसआई के महानिदेशक लेफ्टिनेंट जनरल नदीम अंजुम के साथ पीएम के आवास पर मुलाकात करने पहुंचे थे।


इस बीच पीएमएल-एन के नेतृत्व में पाकिस्तान में विपक्ष ने नेशनल असेंबली में 3 अप्रैल के अविश्वास प्रस्ताव से पहले इमरान खान का इस्तीफा मांगा है। इससे पहले आंतरिक मंत्री शेख रशीद ने कहा था कि पीएम खान राष्ट्र को संबोधित करेंगे। वहीं पीएम खान ने दावा किया था कि वह पत्रकारों और पीटीआई के सहयोगियों को उनके द्वारा लिखे गए पत्र के लिखित साक्ष्य के बारे में बताएंगे। जिसमें उनकी सरकार के खिलाफ एक विदेशी साजिश के सबूत हैं।

पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के अध्यक्ष बिलावल भुट्टो जरदारी ने कहा कि इमरान अब नेशनल असेंबली में बहुमत खो चुके हैं। विपक्ष के नेता शाहबाज शरीफ जल्द ही प्रधानमंत्री बनेंगे। पीपीपी अध्यक्ष ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा, इमरान खान अब अपना बहुमत खो चुके हैं। वह अब प्रधानमंत्री नहीं हैं। संसद का सत्र कल है। चलो कल वोटिंग करते हैं। इस मामले को सुलझाते हैं। भुट्टो ने यहा भी कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के भाई शाहबाज शरीफ जल्द ही देश के प्रधानमंत्री बनेंगे।

उन्होंने कहा, 'पीपीपी और एमक्यूएम-पी के कामकाजी संबंध का अविश्वास प्रस्ताव से कोई लेना-देना नहीं है।' देश के विकास के लिए दोनों पार्टियों को मिलकर काम करना होगा। उन्होंने आगे कहा, इमरान खान के पास कोई विकल्प नहीं बचा है। वह इस्तीफा दे सकते हैं या अविश्वास से बर्खास्त हो सकते हैं।


Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment