.....

मध्‍य प्रदेश हाकी टीम में इंदौर के अक्षत ने फुटपाथ पर खेलकर बनाई जगह

 इंदौर। रेसीडेंसी क्षेत्र में जिला जेल के पीछे फुटपाथ पर अभ्यास करने वाले खिलाड़ियों के झुंड में एक चेहरा अक्षत यादव का भी है। इसी फुटपाथ पर खेलकर अक्षत ने मध्‍य प्रदेश हाकी टीम में जगह बनाई है।



हाकी इंदौर संगठन के कार्यकारी अध्यक्ष देवकीनंदन सिलावट ने बताया कि मप्र टीम की घोषणा हाकी मप्र संगठन के सचिव लोकबहादुर ने की। मप्र टीम भोपाल में 21 मार्च से आयोजित औबेदुल्लाह कप हाकी टूर्नामेंट में चुनौती पेश करेगी। मप्र पुरुष टीम में इंदौर से अक्षत एकमात्र खिलाड़ी हैं।

अक्षत की उपलब्धि इसलिए भी खास है क्योंकि उन्होंने फुटपाथ पर प्रशिक्षण लेकर सफलता की यह सीढ़ी चढ़ी है। प्रदेश के सबसे पुराने क्लब के पास खेलने के लिए मैदान नहीं है। यहां पूर्व अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी मीररंजन नेगी, अशोक यादव, सरवर खान के मार्गदर्शन में खिलाड़ी फुटपाथ पर ही अभ्यास करते हैं।

91 साल पुराना टूर्नामेंट फिर होगा प्रारंभ

औबेदुल्लाह कप देश का सबसे पुराना एवं प्रतिष्ठित टूर्नामेंट है। पहली बार वर्ष 1931 में इस टूर्नामेंट की शुरूआत हुई। तब इसका नाम अब्दुल्ला खां गोल्ड कप था। यह टूर्नामेंट अंतिम बार वर्ष 2016 में औबेदुल्ला खां हैरिटेज हाकी कप के नाम से आयोजित किया गया था। जिसमें भारत पेट्रोलियम कार्पोरेशन लिमिटेड (बीपीसीएल) की टीम चैम्पियन बनी थी।

पुरस्कार राशि

टूर्नामेंट की विजेता टीम को 11 लाख, उप विजेता को सात लाख, तीसरा स्थान प्राप्त करने वाली टीम को तीन लाख का पुरस्कार मिलेगा। साथ ही चौथा स्थान प्राप्त करने वाली टीम को 1.5 लाख रूपये की पुरस्कार राशि दी जाएगी। विभिन्न् व्यक्तिगत पुरस्कार भी दिए जाएंगे।

Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment