.....

सहायक शिक्षक परमार की पत्नी के दो बैंक लाकरों ने उगले 590 ग्राम सोने के गहने, व डेढ़ लाख रुपये

 ग्वालियर। आय से अधिक की संपत्ति के मामले में नामजद सहायक शिक्षक प्रशांत सिंह परमार व उनकी पत्नी शशि परमार की मौजूदगी में गुरुवार को ईओडब्ल्यू ने दो बैंक लाकर खुलवाए। सिटी सेंटर स्थित आइसीआइसीआइ बैंक के लाकर से 590 ग्राम सोने के आभूषण व 50 हजार रुपये निकले। दूसरा लाकर बैंक आफ इंडिया की फूलबाग ब्रांच स्थित शाखा में था। इस लाकर के खोलने पर केवल एक लाख रुपये मिले हैं। अभी बैंक खातों की जानकारी आना शेष है। इससे पहले ईओडब्ल्यू ने आरोपित के फ्लैट, आफिस, गार्डन व कालेज में छापा मारकर चल-अचल संपत्ति के दस्तावेज बरामद किए थे। जिनका ईओडब्ल्यू द्वारा इनकी वास्तविक कीमत का पता लगाने के लिए आकलन किया जा रहा है। वर्तमान मूल्य के अनुसार अनुमानित संपत्ति 25 करोड़ के लगभग की है।


एसपी(ईओडब्ल्यू) बिट्टू सहगल ने बताया कि सहायक शिक्षक प्रशांत सिंह परमार के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति की शिकायत मिली थी। इस शिकायत पर 25 दिन की गई पड़ताल के बाद आय से अधिक संपत्ति होने की पुष्टि हुई थी। आरोपित के खिलाफ ईओडब्ल्यू में प्रकरण दर्ज करने के बाद न्यायालय से सर्च वारंट लेने के बाद शनिवार को आरोपित के अलकापुरी स्थित सत्यम रेजिडेंसी में फ्लैट,आफिस,कोटेश्वर स्थित गार्डन स्कूल व नूराबाद स्थित कालेज पर छापा मारकर चल-अचल संपत्ति के दस्तावेज जब्त किए थे। पड़ताल में पता चला था कि आरोपित के परिवार के नाम पर दो लाकर हैं। डीएसपी लोकायुक्त सतीश चतुर्वेदी के साथ टीम ने आरोपित की पत्नी शशि परमार को साथ लेकर दोनों लाकर खुलवाए।

ईओडब्ल्यू की टीम ने सिटी सेंटर स्थित आइसीआइसीआइ बैंक का लाकर खुलवाया। इस लाकर में सोने के भारी हार, बाजुबंध सहित अन्य गहने मिले। टीम अपने साथ गहनों का परीक्षण व वजन कराने के लिए सुनार को साथ लेकर गई थीं। बैंक परिसर में गहनों का परीक्षण किया गया। सभी गहने सोने के थे, जो कि 590 ग्राम वजनी थी। इनकी कीमत 28 लाख 50 हजार रुपये के लगभग के हैं। इन गहनों के साथ 50 हजार रुपये भी मिले हैं। फूलबाग स्थित बैंक आफ इंडिया की शाखा के लाकर से सिर्फ एक लाख रुपये मिले हैं।


Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment