.....

भोपाल में सीएम हाउस दंडवत करते हुए जा रहे मिर्ची बाबा को पुलिस रोककर साथ ले गई

 भोपाल। गो-माताओं की भूख व सड़क हादसों मौतें न हो। उनकी रक्षा करने के लिए प्रदेश सरकार गंभीरता दिखाए। इसी मांग को लेकर मिर्ची बाबा का अनशन लगातार तीसरे दिन भी जारी है। आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी वैराग्‍यानंद गिरी उर्फ मिर्ची बाबा का मीनाल रेसीडेंसी अपने घर के बरामदे में अनशन कर रहे हैं। शनिवार को भी मिर्ची बाबा अपने घर के बरामदे में अनशन पर बैठे हैं। इसी दोपहर को वे दंडवत करते हुए मुख्यमंत्री आवास रवाना हो गए थे। मिर्ची बाबा को राजभवन के पास पुलिस ने रोका और अपने साथ ले गई।


मिर्ची बाबा ने बताया कि गो-माता की रक्षा के लिए प्राण भी त्यागने पड़ें तो भी पीछे नहीं हटूंगा। बाबा ने अपनी मांग फिर दोहराई। उन्होंने कहा कि प्रदेश में गो-माताओं की रक्षा की जाए। उनके लिए चारे व भूसा की पर्याप्‍त व्यवस्था की जाए। हर गोमाता के हिसाब से सरकार रोजाना 50-50 रुपये स्वीकृत करे। शुक्रवार को मिर्ची बाबा से मिलने मुरैना से कांग्रेस विधायक राकेश मावई पहुंचें। विधायक मावई से बाबा ने मुरैना में बीते दिनों हुई गो-माताओं की मौतों के बारे में जानकारी ली। उधर मिर्ची बाबा के घर के बाद पुलिस की तैनाती बनी रही। अयोध्या नगर के टीआई शैलेंद्र शर्मा ने बताया कि मिर्ची बाबा घर के बरामदे में अनशन कर रहे हैं। बाहर पुलिस के जवानों की तैनाती की गई। बता दें कि मिर्ची बाबा गो-माताओं के विरोध में गुरुवार को मीनाल रेसीडेंसी से मुख्यमंत्री निवास पर पैदल यात्रा निकाल रहे थे। पुलिस ने बाबा को घर के बाहर ही रोक दिया। इससे नाराज मिर्ची बाबा घर में अनशन पर बैठे हुए हैं। मिर्ची बाबा के सहयोगी गोपाल ने बताया कि पुलिस बाबा को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से नहीं मिलने दे रही है। बाबा एक बार मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मिलकर प्रदेश में हो रही गो-माताओं की मौतों पर चर्चा करनी है।


Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment