.....

जल प्रदाय योजना के कार्यों की समीक्षा: प्रबंध संचालक ने दिए ठेकेदार के विरूद्ध कार्यवाही के निर्देश

 भोपाल : मध्यप्रदेश अर्बन डेवलपमेंट कंपनी के प्रबंध संचालक निकुंज श्रीवास्तव ने एशियन डेवलपमेंट बैंक के सहयोग से क्रियांवित किये जा रहे, जल प्रदाय योजना के कार्यों की समीक्षा की। श्रीवास्तव ने बैठक में स्पष्ट निर्देश दिये की रोड़ रेस्टोरेशन के कार्य प्राथमकिता से किए जाये और यह सुनिश्चित हो की  15 मार्च से पहले रोड रेस्टोरेशन के कार्य पूरे हो जाये। 



प्रबंध संचालक ने सागर और भिंड में जल प्रदाय योजना की धीमी गति और रोड रेस्टोरेशन के कार्य में लापरवाही बरतने के आधार पर मेसर्स टाटा प्रोजेक्ट लिमिटेड के विरूद्ध प्रावधान अनुसार कठोर कार्यवाही करने के निर्देश दिए।


उल्लेखनीय है कि नगरीय विकास और आवास मंत्री भूपेंद्र सिंह ने रोड रेस्टोरेशन के कार्यों की सतत मॉनिटरिंग के निर्देश दिए हैं। श्रीवास्तव ने  कहा कि पाइप लाईन बिछाने के लिये रोड कटर से ही काटे और 48 घंटे के अंदर अस्थाई रेस्टोरेशन और 15 दिन के अंदर स्थाई रोड रेस्टोरेशन का कार्य पूरा करें। 


प्रबंध संचालक ने ठेकेदारों से कहा की काम में धीमी गति स्वीकार्य नहीं होगी। ठेकेदार काम तेजी से करने के साथ गुणवत्ता का भी विशेष ध्यान रखें। उन्होंने कहा कि यदि ठेकेदार को  फील्ड में कोई व्यवहारिक दिक्कत आ रही है तो,इकाईयों के परियोजना प्रबंधक की जिम्मेदारी है कि  जिला कलेक्टर के संज्ञान में लाकर समस्या का निदान करायें। उन्होंने कहा की नगरीय निकाय के मुख्य नगर पालिका अधिकारी भी कंपनी द्वारा निष्पादित किये जा रहे कार्यों की जानकारी से अद्यतन रहें।  प्रबंध संचालक ने कहा की मुख्यमंत्री की मंशा के अनुरूप जल प्रदाय योजना के काम तेजी से पूरे किये जाये। समीक्षा बैठक में प्रमुख अभियंता दीपक रत्नावत भी उपस्थित थे। 


Share on Google Plus

click News India Host

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment