जीएसटी रिटर्न SMS से भी भरे जा सकेंगे 


कोरोना काल में कारोबारियों को वस्तु व सेवा कर (GST) के मासिक रिटर्न जीएसटीआर -3बी भरने के मामले में बड़ी राहत दी गई है। जिन कारोबारियों की जीएसटी देनदारी नहीं बनती है वे SMS के जरिए ही अपना रिटर्न दाखिल कर सकेंगे। सोमवार से यह सुविधा शुरू हो गई।


केंद्रीय परोक्ष कर एवं सीमा शुल्क बोर्ड (CBIC) के इस फैसले से जीएसटीएन पर पंजीकृत 22 लाख कारोबारियों को फायदा हो सकता है। इन कारोबारियों को हर महीने जीएसटी पोर्टल पर जाकर अपना रिटर्न फाइल करना पड़ता है। अब अगर इनकी देनदारी शून्य है तो उन्हें पोर्टल पर जाकर लॉगइन करने और रिटर्न फाइल करने की जरूरत नहीं होगी। वे सिर्फ एसएमएस भेजकर अपना रिटर्न फाइल कर सकेंगे। कारोबारी एसएमएस भेजने की प्रक्रिया की जानकारी जीएसटी पोर्टल से हासिल कर सकते हैं।
विशेष मोबाइल नंबर से मिलेगी सुविधा
इस नई सुविधा के मुताबिक जिन कारोबारियों पर पूर्व का जीएसटी रिटर्न बकाया नहीं है उन्हें इससे लाभ मिलेगा। ऐसे लगभग 22 लाख रजिस्टर्ड टैक्सपेयर्स हैं। कारोबारियों को ये सुविधा 5 अंकों वाले एक विशेष मोबाइल नंबर के जरिये मिलेगी। अब, NIL करदाताओं को जीएसटी पोर्टल पर लॉग इन करने की जरुरत नहीं है। एक एसएमएस के जरिये भी वे अपना NIL रिटर्न दाखिल कर सकते हैं।

Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment