जनधन खाते में 500 रुपए क्या आपको भी नहीं मिल रहे


केंद्र सरकार द्वारा जन धन खाताधारकों के खाते में 500 रुपए की एक और किस्त जमा कर दी गई है। इसी के साथ अब लोग बैंकों में जाकर पैसे निकाल सकेंगे। ऐसा करने के लिए उन्हें कुछ नियमों का पालन करना होगा जो 4 मई से लागू हुए हैं।


दूसरों की तरह आपके जन धन खाते में 500 रुपए की किस्त नहीं आई है तो इसका मतलब हो सकता है आपका जन धन खाता बंद हो। इसका कोई भी कारण हो सकता है। अगर आपके भी खाते में पैसे नहीं आए हैं तो तुरंत अपना बैंक अकाउंट चेक करें की कहीं ये बंद तो नहीं है। दरअसल बहुत समय खाते का इस्तेमाल न करने से अकाउंट निष्क्रिय हो जाता है। अगर आप भी ऐसी ही दिक्कत का सामना कर रहे हैं तो हम आपको बताते हैं खाता फिर से चालू करवाने का तरीका।
यह है अकाउंट फिर से चालू करवाने का तरीका
जन धन खाता बंद हो गया हैं तो उसे किस तरह फिर से एक्टिवेट करवाया जा सकता है यह जानने से पहले यह पता करें कि आपका खाता बदं क्यों हुआ। जन धन योजना की शुरुआत 2014 में हुई थी, जिसके तहत 6 साल पहले सरकार ने सभी गरीब असहाय लोगों से बैंक में अकाउंट खोलने का आग्रह किया, जिसके तहत सरकार द्वारा दी जाने वाली किसी भी प्रकार की वित्तीय सहायता की राशि लाभार्थियों के इसी बैंक खाते में ट्रान्सफर की जाती थी। पिछले 3 से 4 सालों में कुछ जन धन खातों में कोई भी राशि का आदान प्रदान नहीं हुआ है। जिस कारण से बैंकों द्वारा उन खातों को निष्क्रिय या बंद कर दिया गया कर दिया गया हैं। ऐसे में इन्हें फिर चालू करवाने के लिए आपको आवेदन देना होता है।
जन धन खाता बंद होने के बाद फिर से कैसे खुलवाएं ?
यदि आपका भी जन धन खाता बंद हो गया हैं तो आप बहुत ही आसानी से इसे सक्रिय कर सकते हैं लेकिन इसके लिए कुछ बातें हैं जरुरी, वह क्या हैं एवं इसकी प्रक्रिया क्या हैं इसकी जानकारी इस प्रकार हैं
जन धन खाते से जुड़ी सबसे पहली बात यह है कि आपका जन धन खाता Aadhaar Card से लिंक किया हुआ होना चाहिए। अगर ऐसा है तो फिर आपको कोई परेशानी नहीं आएगी। जिन लोगों का जन धन खाता आधार कार्ड से लिंक किया हुआ हैं और यदि उनका खाता काफी समय से लेनदेन नहीं होने की वजह से निष्क्रिय हो गया हैं, तो उन्हें चिंता करने की आवश्यकता नहीं है। ऐसे में बैंक को अपने आधार कार्ड की जानकारी देने के कुछ समय के बाद उनका खाता फिर से सक्रिय हो जायेगा, और उन्हें योजना के तहत मिलने वाले लाभ की राशि भी प्राप्त हो जाएगी।

Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment