जियो के साथ सौदे का मतलब हमारे बीच प्रतिस्पर्धा खत्म होना नहीं है: फेसबुक


नई दिल्ली ! फेसबुक और जियो ने हाल ही में साझेदारी की घोषणा की है जिसमें जियोमार्ट में पेमेंट के लिए व्हाट्सएप पे का इस्तेमाल जैसी शर्तें शामिल हैं। रिलायंस जियो और फेसबुक के बीच 43,574 रुपये का सौदा हुआ है। इस डील के बाद जियो में 9.99 फीसदी हिस्सेदारी फेसबुक की होगी। इस सौदे के बाद फेसबुक ने कहा है कि हम तालमेल और सहयोग से निर्धारित क्षेत्रों में आगे बढ़ेंगे, लेकिन दोनों कंपनियों के बीच हुए सौदे का यह अर्थ नहीं है कि दोनों पक्ष बाजार में प्रतिस्पर्धा नहीं करेंगे। यह सौदा अपने आप में विशिष्ट यानि एक्सक्लूसिव नहीं है। 


भारत में फेसबुक के उपाध्यक्ष और प्रबंध निदेशक अजीत मोहन ने बुधवार को संवाददाताओं से कहा इस गठजोड़ की बनावट विशिष्ट नहीं है। फेसबुक ने जियो प्लेटफार्म्स में 9.99 प्रतिशत हिस्सेदारी लेने के लिए 43,574 करोड़ रुपये का निवेश करने की घोषणा की है। मोहन ने कहा कि दोनों पक्ष वास्तव में मानते हैं कि उनके बीच साथ मिलकर काम करने और आर्थिक विस्तार के शानदार अवसर हैं और इसके तहत पहले छोटे व्यवसायों पर ध्यान केंद्रित किया जाएगा। यह पूछने पर कि क्या फेसबुक अमेजन या फ्लिपकार्ट जैसी दूसरी खुदरा कंपनियों के साथ साझेदारी करने पर भी विचार कर सकता हैमोहन ने कहा प्लेटफार्म खुले हैं। यह विशेष (एक्सक्लूसिव) नहीं है और इसका मतलब किसी को दूर रखना नहीं है।

Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment