#Metoo : केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर ने प्रिया रमानी के खिलाफ मानहानि का केस दर्ज कराया

नई दिल्‍ली : विदेश राज्‍य मंत्री एम जे अकबर ने सोमवार को उनके ऊपर आरोप लगाने वाली प्रिया रमानी के खिलाफ आपराधिक मानहानि का केस दर्ज कराया है. 

अकबर ने सोमवार को अपने वकीलों के जरिये दिल्‍ली की पटियाला हाउस कोर्ट में रमानी के खिलाफ केस दर्ज कराया है. 

बता दें कि इससे पहले रविवार को अपने विदेश दौर से दिल्‍ली लौटने के बाद एमजे अकबर ने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों को मनगढ़ंत और बेबुनियाद बताया था.

अकबर ने रविवार को दिल्‍ली में बयान जारी कर कहा था 'मैं इन आरोपों पर पहले इसलिए नहीं कुछ बोल पाया था क्‍योंकि मैं विदेश दौरे पर था. 

इसके अलावा सूत्रों के हवाले से कहा गया था कि सरकार एमजे अकबर से इस्‍तीफा नहीं मांगेगी.विदेश राज्‍य मंत्री एम जे अकबर ने रविवार को आरोपों पर सफाई देते हुए कहा था 'मेरे ऊपर बिना सुबूतों के लगाए जा रहे आरोप वायरल बुखार की तरह से कुछ तबके के बीच फैल रहे हैं. 
उन्‍होंने कहा कि मामला कुछ भी हो. अब मैं वापस आ गया हूं. मेरे वकील अब इस मामले को देखेंगे. साथ ही इन सभी बेबुनियाद आरोपों पर निर्णय लेने को लेकर भविष्‍य की रणनीति तय की जाएगी.'
उन्‍होंने सवाल उठाया कि आम चुनावों से महज कुछ महीने पहले ही यह तूफान क्‍यों उठा? क्‍या इसके पीछे कोई किसी तरह का कोई एजेंडा है? इन बेबुनियाद और झूठे आरोपों से मेरी इमेज को क्षति पहुंची है. 
उन्‍होंने उनके ऊपर आरोप लगाने वाली महिला प्रिया रमानी पर कहा कि प्रिया रमानी ने यह अभियान एक साल पहले एक मैगजीन में आर्टिकल प्रकाशित करने के साथ ही शुरू किया था.
अकबर ने कहा कि उन्‍होंने उसमें मेरा नाम नहीं लिखा था क्‍योंकि वह जानती थीं कि यह गलत है. जब उनसे मेरा नाम न लिखने के प्रति पूछा गया तो उन्‍होंने अपने ट्वीट में भी कहा था 'मैंने उनका (अकबर) नाम इसलिए नहीं लिखा था क्‍योंकि उन्‍होंने कुछ नहीं किया था.'
Share on Google Plus

click News India Host

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment