.....

भारत के राजदूत बंबावले ने कहा- चीन अगर यथास्थिति बदलता है तो फिर दोहरा सकता है डोकलाम

चीन में भारत के राजदूत गौतम बंबावले ने कहा है कि पिछले साल के समाधान के बाद डोकलाम गतिरोध क्षेत्र में कोई बदलाव नहीं  आया है और चीन ने यथास्थिति  बदलने की कोशिश की जिससे यह गतिरोध उत्पन्न हुआ। 
उल्लेखनीय है कि चीन ने सिक्किम खंड के डोकलाम में सड़क निर्माण की गतिविधियां रोकने पर सहमति जताई जिसके बाद 73  दिनों तक चला गतिरोध पिछले साल 28  अगस्त को समाप्त हो गया।

बंबावले ने कहा कि डोकलाम में आज कोई तब्दीली नहीं हो रही है। वह इन रिपोर्टों पर प्रतिक्रिया कर रहे थे कि चीनी सेना ने क्षेत्र में बुनियादी ढांचा निर्माणकार्य  तेज कर दिया है। 

भारतीय राजदूत ने हांगकांग से प्रकाशित  दैनिक' साऊथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट के साथ एक साक्षात्कार में कहा कि शायद चीनी पक्ष ज्यादा सैनिकों को रखने के लिए ज्यादा सैन्य बैरक बना रहा हो,  लेकिन वह जगह संवेदनशील क्षेत्र से खासा पीछे है।

बंबावले ने कहा,  ये चीजें हैं जिन्हें करने के लिए आप आजाद हैं और हम भी करने के लिए आजाद हैं क्योंकि आप इसे अपने क्षेत्र के अदंर कर रहे हैं और हम क्षेत्र के अदंर कर रहे हैं।

 भारतीय सैनिकों ने उत्तरपूर्व के राज्यों को जोड़ने वाले भारत के तंग गलियारे' चिकन नेक  इलाके के निकट सड़क बनाने से अपने चीनी समकक्षों को रोकने के लिए हस्तक्षेप किया था। इस इलाके पर भूटान का भी दावा है।
Share on Google Plus

click News India Host

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment