मसूद अजहर पर प्रतिबंध लगाने में चीन बन रहा रोड़ा

चीन संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तान के आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर को आतंकी घोषित करने पर अभी फैसला लेने को तैयार नहीं है।
 इस संबंध में लंबित अर्जी पर चीन के विदेश मंत्रालय का कहना है कि समय आने पर फैसला लिया जाएगा। इस साल की शुरुआत में चीन ने इस अर्जी पर तकनीकी रूप से छह महीने के लिए रोक लगाई थी। 
इसकी जल्द ही समीक्षा होने की उम्मीद है। मंत्रालय ने पहले एक लिखित जवाब में कहा था, हमने कई बार संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की 1267 समिति को चीन के रुख से अवगत कराया है।
चीन यह कहकर भारत के कदम का विरोध कर रहा है कि यूएनएससी 1267 में कोई सहमति नहीं है। यूएनएससी 1267 आतंकवादी संगठनों और उनके नेताओं पर वैश्विक प्रतिबंध लगाती है। 
जेईएम पहले ही प्रतिबंधित सूची में है। भारत ने पिछले साल मार्च में संयुक्त राष्ट्र में अजहर पर प्रतिबंध लगाने का प्रस्ताव रखा था। भारत ने उसे पठानकोट आतंकवादी हमले का मास्टरमाइंड बताया।
Share on Google Plus

click News India Host

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment