भारत का चीन को जवाब, अरुणाचल के तवांग तक रेल लाइन बिछाने की तैयारी

अरुणाचल प्रदेश के सीमाई क्षेत्रों में चीन के बढ़ते प्रभाव को रोकने के लिए भारत सराकर ने कमर कस ली है। रेल मंत्रालय चीन से जुड़ते अरुणाचल प्रदेश के तवांग तक रेल लाइन बिछाने की तैयारी में कर रहा है।
इसके लिए केंद्रीय ग़ह मंत्रालय और रेल मंत्रालय की 1 अप्रैल को अरुणाचल प्रदेश में बैठक होगी। इस बैठक में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री किरण रिजिजू, केंद्रीय रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा के साथ गृह मंत्रालय और रेल मंत्रालय के अधिकारी शामिल होंगे।
अरुणाचल प्रदेश के  सुदूर पहाड़ी क्षेत्रों तक रेल सेवा पहुंचाने के मकसद से अब उत्तर-पूर्व सीमांत रेलवे (NFR) ने अरुणाचल प्रदेश के तवांग तक रेल सेवा पहुंचाने की योजना बनाई है।
तवांग समुद्रतल से 10 हजार फुट की ऊंचाई पर बसा हुआ है। यह चीन से सटी भारतीय सीमा के पास है, जानकारी के मुताबिक इस प्रॉजेक्ट के लिए सर्वे का काम 2018 में शुरू कर दिया जाएगा।
सीमा से लगे इलाकों में चीन लंबे समय से सड़क, हाइवे और रेल सेवा जैसी बुनियादी सुविधाएं मजबूत करने में लगा है।
भारत को भी अपने सीमांत प्रदेशों में सामरिक चुनौतियों के मद्देनजर सड़क, हवाईपट्टी और अन्य जरूरी ढांचा विकसित करने की जरूरत महसूस हो रही थी जिसके बाद केंद्र सरकार ने ये फैसला लिया है।
Share on Google Plus

click News India Host

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment