अखिलेश यादव ने नेता जी के बिना ही जारी कर दिया सपा का घोषणापत्र

लखनऊ : मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज (रविवार) मुलायम सिंह यादव के बिना ही समाजवादी पार्टी का घोषणापत्र जारी कर दिया। मंच पर अखिलेश यादव और डिंपल यादव थीं लेकिन मुलायम सिंह यादव नहीं आए। 

अखिलेश ने पार्टी का चुनाव घोषणापत्र जारी किया जिसमें महिलाओं, अल्पसंख्यकों, बुजुर्गों युवाओं, किसानों और गरीबों के लिए तमाम लोक लुभावन तोहफे हैं और उनका वादा है कि उत्तर प्रदेश में समाजवादी सरकार फिर से बनी तो संतुलित विकास के मॉडल को आगे बढाया जाएगा। 

लैपटॉप के साथ समाजवादी स्मार्टफोन की योजना शुरू होगी, स्मार्टफोन योजना के तहत जिस हिसाब से रजिस्ट्रेशन (1 करोड 40 लाख लोगों ने कराया रजिस्ट्रेशन) हुआ है, अगर उन्हीं लोगों ने वोट दे दिया तो समाजवादी लोग 300 सीटें जीतकर सरकार बना लेंगे।

गरीब महिलाओं को प्रेशर कुकर देंगे ताकि वे कम समय में खाना बना सकें, अत्यंत गरीबों को नि:शुल्क गेहूं और चावल मिलेगा

 1 करोड़ लोगों को 1000 रुपये मासिक पेंशन दिया जाएगा, रोडवेज बस में महिलाओं को किराये में 50% की छूट दी जाएगी,वरिष्ठ नागरिकों को ओल्ड एज होम बनाएंगे, समाजवादी किसान कोष बनाया जाएगा

 मजदूरों को रियायती दर पर मिड डे मिल दिया जाएगा,आगरा, मेरठ कानपुर, वाराणसी में मैट्रो की शुरुआत होगी

सालाना 1.5 लाख रुपये से कम कमाने वालों को मुफ्त इलाज होगा,शहर की तरह गांव में भी 24 घंटे बिजली दी जाएगी, शहरों में ट्रैफिक समस्या सुलझायी जाएगी,लखनऊ एयरपोर्ट पर एंबुलेंस की सुविधा दी जाएगी
उत्तर प्रदेश का हर जिला 4 लेन हाईवे से जोड़ा जाएगा

यूपी में तहसील स्तर पर फैमिली बाजार बनाया जाएगा,बुनकरों के लिए नई योजना बनाई जाएगी।
 स्कूल में आने वाले गरीब बच्चों को एक लीटर घी मिलेगा,जिन बच्चों का वजन कम होगा उन्हें एक लीटर दूध दिया जाएगी

डॉक्टर पशुओं के इलाज के लिए एंबुलेंस से आएंगे,हमने 2012 के घोषणा पत्र को पूरी तरह लागू किया है,
 लैपटॉप, समाजवादी पेंशन, कन्या विद्याधन, पूर्वांचल एक्सप्रेस योजनाओं को मजबूती से चलाएंगे।

 नेता  जीऔर मुझ पर उत्तर प्रदेश की जनता को भरोसा है, कभी-कभी त्याग करना पड़ता है तब सरकार बनती है
Share on Google Plus

click News India Host

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment