प्रदेश में ठंड का सितम, छह साल बाद भोपाल में पारा सबसे कम 4 डिग्री पर पहुंचा

भोपाल : भोपाल समेत प्रदेश में ठंड का सितम जारी है। शुक्रवार को प्रदेश के करीब डेढ़ दर्जन स्थानों पर पारा 4 डिग्री सेल्सियस से भी नीचे लुढ़क गया।
 भोपाल में छह साल बाद सबसे कम न्यूनतम तापमान 4 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ। इससे पहले सबसे कम तापमान 5 जनवरी 2011 को 2.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ था। वहीं, कोल्ड-डे रहा के साथ ही शीत लहर की स्थिति भी बनी रही।
मौसम केंद्र के मुताबिक प्रदेश के दमोह में सबसे कम 0.5 डिग्री से. तापमान दर्ज हुआ, जबकि उमरिया में न्यूनतम तापमान 1.9 डिग्री से. रिकॉर्ड किया गया। 
मौसम विज्ञानियों ने शनिवार को भी पूरे प्रदेश में ठंड की स्थिति इसी तरह बनी रहने के साथ ही शीतलहर वाले इलाकों में पाला पड़ने की आशंका जताई है।
पिछले दिनों उत्तर भारत के पहाड़ी क्षेत्रों में जोरदार बर्फबारी हुई थी। इसके साथ ही करीब तीन दिन पहले हवा का रुख बदलकर उत्तरी हो गया। 
 प्रदेश के तमाम क्षेत्रों में दिन और रात का तापमान तेजी से नीचे लुढ़कने लगा।एक पश्चिमी विक्षोभ (सिस्टम)जम्मू-कश्मीर की तरफ आ रहा है। 
इससे यहां बारिश होगी और प्रदेश में हवाओं की दिशा में भी बदलाव होगा। इसके चलते दिन-रात के तापमान धीरे-धीरे बढ़ने की उम्मीद है। लेकिन पश्चिमी विक्षोभ के पास होते ही 17 जनवरी से एक बार फिर ठंड का दौर शुरू हो सकता है।

Share on Google Plus

click News India Host

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment