बिंदी लगाने से खूबसूरती के साथ ही स्वास्थ्य में भी होता है लाभ

भारत में बिंदी का इस्तेमाल वर्षो से महिलाएं करती आ रही हैं। यह महिलाओं पर खूब जंचती भी है। इससे महिलाओं की खूबसूरती भी बढ़ जाती है।

 बिंदी लगाने से चेहरे की त्वचा पर रक्त प्रवाह अच्छे से होता है और इससे चेहरे पर झुर्रियां नहीं पड़ती हैं।यह ध्यान केंद्रित करने में मदद करती है, यह तनाव को कम करता है और मन को शांति मिलती है।

बिंदी लगाने से अनिद्रा, पीठ और शरीर के ऊपरी हिस्सों में रक्त संचार बिना रुके होता है इससे हमें काफी आराम मिलता है। आंखो की मसल्स के लिए भी बिंदी बेहतर है।

 माथे के मध्य भाग आंखो से संबंधित होता है जो अगल-बगल देखने में मदद करती है। अगर आपको अच्छी नींद नही आती है तो आपके लिए बिंदी काफी फायदेमंद है, क्योंकि बिंदी लगानें से यह शरीर के ऊपरी भाग को शांत रखता है जिससे आपकी अच्छी मसाज हो जाती है। 

जिसके कारण आपको अच्छी नींद आती है। अगर आपको साइनस की समस्या है तो आप बिंदी का इस्तेमाल जरुर करें, क्योंकि इस जगह की मसाज होने से खून का संचालन नाक के आस-पास अच्छी तरह से होने लगता है जिससे साइनस के कारण हुई सूजन कम हो जाती हा जिसके कारण आपकी नाक खुल जाती है और आपको आराम मिलता है।

माथें के बीच में लगे होने के कारण यहां की नसों को उत्तेजित करता है। जिसके कारण कान की भीतर की मसल्स को सुदृढ़ करके कान को स्वस्थ रखनें के साथ-साथ सुनने की श्कित को बढा देता है।

भौहें के बीच की लाइन को लेकर आपको बहुत सारी समस्या होती है। अगर आप इसे कम करना चाहते है तो बिंदी लगाना शुरु कर दें। इससे वहां की जगह का ब्लड सरकुलेशन बढ़ जाता है जिससे त्वचा को फाइन लाइन चली जाती है।
Share on Google Plus

click News India Host

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment