DCW की अध्यक्ष मालीवाल के खिलाफ केस दर्ज

नई दिल्ली। दिल्ली महिला आयोग (DCW) में नियुक्तियों में धांधली के आरोप में एंटी करप्शन ब्रांच (ACB) द्वारा मामला दर्ज किए जाने पर DCW की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने कड़ी प्रतिक्रिया दी।
 उन्होंने कई ट्वीट कर सफाई तो दी ही, साथ ही विरोधियों पर भी हमले किए। आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने भावुक अंदाज में कहा कि अगर कोई मेरी पूरी जिंदगी में 1 रुपय़े का भ्रष्टाचार भी सिद्ध कर दे तो मैं अपनीं जिंदगी छोड़ दूंगी।
सोमवार देर रात ACB ने स्वाति मालीवाल पर भ्रष्टाचार निरोधक कानून के तहत केस दर्ज किया है। स्वाति मालीवाल पर नियुक्तियों में धांधली का आरोप है।
आज मामला दर्ज होने पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए स्वाति मालीवाल ने कहा कि पता चला कि मुझे पर मामला दर्ज हुआ है।
 जब गलत काम नहीं किया हो तो भगवान से भी नहीं डरना चाहिए। सिस्टम को बदलने के लिए काम करेंगे तो कुर्बानी तो देनी पड़ेगी।
पता चला FIR हुई है। जब गलत काम नही किया हो तो भगवान से भी नही डरना चाहिए।सिस्टम को बदलने के लिए काम करेंगे तो कुर्बानी तो देनी पड़ेगी।
उन्होंने कहा कि महिला आयोग में जो भर्ती का तरीका सालों से अपनाया गया, वही अपनाया है। जो बदला है वह है काम। दिन रात शिद्दत से काम किया है। सिस्टम से सवाल किए हैं।
यहां पर बता दें कि दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल के खिलाफ एसीबी ने भ्रष्टाचार निरोधक कानून के तहत केस दर्ज किया है। 
स्वाति पर नियुक्तियों में धांधली का आरोप है। इससे पहले एसीबी की एक टीम के अधिकारियों ने गैर-कानूनी भर्तियों की एक शिकायत के सिलसिले में इसकी प्रमुख स्वाति मालीवाल से पूछताछ की थी।
डीसीडब्ल्यू की पूर्व प्रमुख बरखा शुक्ला सिंह की एक शिकायत के आधार पर एसीबी ने जांच शुरू की है।
 अपनी शिकायत में बरखा सिंह ने दावा किया था कि आप के कई समर्थकों को डीसीडब्ल्यू में पद दिया गया है। 
बरखा सिंह ने अपनी शिकायत में 85 लोगों का नाम दिया है। उन्होंने दावा किया है कि इन्हें ‘बिना अपेक्षित योग्यता’ के नौकरी दी गई है।

Share on Google Plus

click News India Host

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment