.....

उमर अब्दुल्ला से अलग रह रही पत्नी पायल का सरकारी बंगला खाली करने से इन्कार

नई दिल्ली।  जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने अनंतनाग विधानसभा सीट जीतकर विरोधियों का सफाया कर दिया तो वहीं दूसरी तरफ महबूबा की सरकार पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला की अलग रह रही पत्नी को दिल्ली के 7 अकबर रोड बंगला खाली करने का आदेश देकर एक दीवार खिंचने जा रही है। टाइप- VIII बंगला 7 अकबर रोड मुख्यमंत्री का आधिकारिक आवास भी रहा है।
साल 2011 में उमर अब्दुल्ला से अलग रह रही पायल अब्दुल्ला ने जम्मू-कश्मीर के रेसिडेंट कमिशन एस्टेट ऑफिसर के बंगला खाली करने के सारे प्रयासों का कड़ा विरोध किया।
 पायल ने कहा कि बतौर पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला की अलग रही रही पत्नी के नाते उसका ये कानूनी अधिकार बनता है कि उसके पति को जो बंगला आवंटित किया गया है उसमें वह रहे।
टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक, प्रियंका गांधी का उदाहरण देते हुए पायल ने कहा कि वह भी अपने बेटे के साथ इस बंगले में रह रही है क्योंकि जम्मू-कश्मीर के बड़े नेता स्वर्गीय शेख अब्दुल्ला के परपोते को सुरक्षा कारणों के चलते जेड श्रेणी की सुरक्षा दी गई है।
पिछले जनवरी में उमर अब्दुल्ला मुख्यमंत्री कार्यालय छोड़ दिया था। उसके बाद मार्च 2015 में स्वर्गीय मुफ्ती मोहम्मद सईद ने मुख्यमंत्री की कुर्सी संभाली।
 नई दिल्ली के जम्मू-कश्मीर रेसिडेंट कमिशन की तरफ से 30 नवंबर 2015 को बंगला खाली करने के लिए पायल अब्दुल्ला को नोटिस भेजा गया।

Share on Google Plus

click News India Host

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment