.....

चीन के विरोध के बावजूद दलाई लामा से मिलेंगे ओबामा

वाशिंगटन. अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा चीन के विरोध को नजरअंदाज करते हुए बुधवार को व्हाइट हाउस में दलाई लामा से मुलाकात करेंगे.
ओबामा के इस कदम के कारण निर्वासित तिब्बती धर्मगुरू को अलगाववादी मानने वाले चीन की त्योरियां चढ़ सकती हैं. राष्ट्रपति के कल जारी कार्यक्रम के अनुसार ओबामा आज सुबह व्हाइट हाउस में दलाई लामा से मुलाकात करेंगे.
यह मुलाकात व्हाइट हाउस के मैप रूप में होगी, जिसमें प्रेस को आने की अनुमति नहीं होगी. तिब्बती धर्मगुरू इस समय अमेरिका की यात्रा पर हैं. तिब्बती धर्मगुरू जब कभी अमेरिकी राजधानी में होते हैं तो अमेरिका के राष्ट्रपति आम तौर पर उनसे मुलाकात करते हैं.
 इससे पूर्व व्हाइट हाउस ने कहा था कि अमेरिका के राष्ट्रपति दलाई लामा के धार्मिक एवं आध्यात्मिक गुरू होने के कारण उनसे मुलाकात करते हैं. 
हालांकि अमेरिका का मानना है कि तिब्बत चीन का अभिन्न हिस्सा है लेकिन दलाई लामा की अमेरिका के राष्ट्रपति के साथ हर मुलाकात बीजिंग को नाराज कर देती है.
शीर्ष डेमोक्रेटिक नेता नैंसी पेलोसी ने कहा, तिब्बतियों एवं विश्व भर के लोगों के लिए सम्मानजक होने के कारण परम पूजनीय हमें हमारी बड़ी जिम्मेदारी का एहसास कराते हैं कि हम मानवाधिकारों की रक्षा करने, समानता को प्रोत्साहित करने एवं पर्यावरण की रक्षा करने के लिए काम करें.
 नैंसी ने कहा, तिब्बत में तिब्बतियों की संख्या को कमजोर करने की चीन की हर प्रकार की कोशिश वास्तव में बहुत गलत होगी. बहुत सीधे स्पष्ट रूप से गलत होगी. फिर से, यह अंत:करण को चुनौती देना होगा.
Share on Google Plus

click News India Host

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment