.....

ड़क हादसे में पिता, पुत्र और पुत्री की माैत, घर से एक साथ उठी तीन अर्थियां

 धार। नागदा-गुजरी मार्ग पर सलकनपुर फाटे के समीप गुरुवार रात्रि में हुए सड़क हादसे में बेटे, पिता व पुत्री की मौत हो गई। बेटे की मौत गुरुवार रात्रि में घटनास्थल पर हो चुकी थी। वहीं बेटी व पिता को गंभीर चोट होने से इंदौर रेफर किया गया था, जहां उपचार के दौरान उनकी मौत हो गई। दो दिन में एक ही घर से तीन अर्थी उठने पर हर किसी की आंखें नम हुई हैं। स्वजन का रो-रोकर बुरा हाल हो गया। वहीं पति व बेटी की मौत की खबर अभी पत्नी को नहीं है। दादा ने पोते की मौत की खबर सुनी तो उन्हें सदमा लगा। उन्हें अस्पताल में भर्ती करना पड़ा। इसके बाद जब पोती के अंतिम दर्शन किए तो वह पूरी तरह टूट गए। अभी उन्हें बेटे की मौत की खबर नहीं है।


गुरुवार रात्रि आठ बजे नागदा-गुजरी फाटे के समीप ट्रैक्टर ट्राली ने बाइक सवारों को टक्कर मार दी थी। बाइक सवार बंटी अपने बेटे करण, बेटी सोनू, पत्नी मनुबाई व मां कलाबाई के साथ गुरुवार सुबह मायापुरी से कोठड़ा में विवाह समारोह में शामिल होने गए थे। रात्रि में कार्यक्रम से लौटते समय दुर्घटना हो गई। इसमें मौके पर 15 साल के किशोर करण की मौत हो गई थी। वहीं पिता बंटी व बेटी सोनू को गंभीर होने से प्राथमिक उपचार कर इंदौर रेफर किया था। शुक्रवार सुबह उपचार के दौरान पिता बंटी की मौत हो गई। पिता का शव मायापुरी अपने निवास पर लाया गया जहां बेटे और पिता दोनों का अंतिम संस्कार साथ में किया गया। दोनों की अग्नि शांत भी नहीं हुई थी कि उससे पहले ही बेटी सोनू की मौत की खबर आ गई। शनिवार को बेटी सोनू का अंतिम संस्कार किया गया।

दादा को करना पड़ा भर्तीः गुरुवार रात्रि में जब दादा रतन ने अपने पोते की मौत की खबर सुनी तो उन्हें सदमा लगा। दादा को अस्पताल में भर्ती करने की नौबत आ गई। शनिवार को जब उन्हें पोती के अंतिम दर्शन के लिए घर लाया गया तो रो-रो कर उनका बुरा हाल हो गया। घटना में घायल पत्नी मनु बाई का जिला अस्पताल में उपचार चल रहा है। वहीं मां कलाबाई का उपचार निजी अस्पताल में चल रहा है। दोनों से बंटी व सोनू की मौत की खबर अभी स्वजन ने छुपा रखी है।


Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment