.....

29 अप्रैल को बदलेगी शनि की दशा, मेष राशि पर होगा थोड़ा अच्छा, तो थोड़ा बुरा असर

 ज्योतिष में ग्रहों के दशा परिवर्तन का बड़ा महत्व बताया गया है। ज्योतिषाचार्यों के अनुसार, अप्रैल 2022 के महीने में कई ग्रहों की स्थिति में बदलाव होने जा रहा है, जिनमें शनिदेव भी शामिल हैं। 29 अप्रैल को शनि का कुंभ राशि में प्रवेश होगा। शनि देव 11 जुलाई 2022 तक इस स्थिति में रहेंगे। शनि के इस गोचर (Shani Gochar 2022) का सभी राशियों पर व्यापक असर बताया जा रहा है। नईदुनिया.कॉम की स्पेशल सीरीज में हम हर राशि पर होने वाले असर और हानि से बचाने के उपायों के बारे में बताएंगे। यहां पढ़िए मेष राशि के लोगों पर क्या असर होगा


Effect of Saturn transit in Aquarius on Aries

शनि ग्रह का यह राशि परिवर्तन मेष राशि वालों को सामाजिक मामलों को महत्वपूर्ण रूप से प्रभावित करेगा। इस दौरान मेष राशि वाले नए दोस्त बनाएंगे और कुछ नए गठबंधनों से जुड़ेंगे। ये आत्मविश्वासी और मजबूत महसूस करेंगे। कई बंधन बनाएंगे। हालांकि, वृषभ राशि में यूरेनस और कुंभ राशि में शनि के बीच टकराव हो सकता है, और आप अंत में कुछ दोस्तों को खो देंगे। कुल मिलाकर इस दौरान सच्चे दोस्त और सच्चे प्यार की पहचान होगी। करियर समृद्ध होगा और लोग आपका स्वभाव पसंद करेंगे। आपका प्रेम जीवन स्थिर रहेगा और आप अपने साथी के साथ क्वालिटी टाइम बिताएंगे। सेहत के लिहाज से सब कुछ सामान्य रहेगा।

क्या होता है जब शनि करते हैं कुंभ में प्रवेश

शनि का कुंभ राशि में गोचर भविष्य को और अधिक गंभीरता से तय करने में मदद करता है। शनि की सबसे शक्तिशाली ताकत उसकी प्रतिबद्धता है, जहां कुंभ को सामूहिकता के संकेत के रूप में दर्शाया गया है। वे दोनों संचार, निर्माण, क्षमताओं और इच्छा शक्ति की एक मजबूत अभिव्यक्ति को जोड़ते हैं और बनाते हैं। जबकि शनि के कुम्भ में गोचर से व्यक्ति का सामाजिक दायरा बढ़ता है और जातक लचीली मानसिकता वाले होते हैं।

Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment