.....

दंगे प्रायोजित, कुछ मुस्लिम संगठन भी भाजपा के साथ मिलकर खेलते हैं- दिग्विजय सिंह

 इंदौर। रामनवमी पर मध्यप्रदेश के खरगोन और देशभर में भड़के दंगों को कांग्रेस नेता और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने प्रायोजित करार दिया है। उन्होंने कहा कि कुछ मुस्लिम संगठन भाजपा के साथ मिलकर खेल रहे हैं। हालांकि सिंह ने ऐसे संगठनों के नाम नहीं बताए।

विभिन्न् आयोजनों में भाग


लेने के लिए सिंह बुधवार दोपहर बाद इंदौर पहुंचे थे। एक दिन पहले ही प्रदेश मेें अलग-अलग जगहों पर दिग्विजय सिंह के खिलाफ एफआइआर दर्ज हुई है। उनके द्वारा किए गए एक ट्वीट को मुद्दा बनाते हुए सिंह पर धार्मिक उन्माद भड़काने का आरोप लगाया है।

खुद पर दर्ज हुए मुकदमों पर प्रतिक्रिया देते हुए सिंह ने यह भी कहा कि मैंने जीवनभर भाईचारे और अहिंसा की बात की। मेरे खिलाफ ही उन्माद और दंगे भड़काने का केस दर्ज किया जा रहा है। सिंह ने यह भी कहा कि मैंने क्या किया था सिर्फ सवाल ही तो पूछे थे। भीकनगांव का भाषण भी भड़काने वाला है।

उन्‍होंने कहा कि मैंने जिंदगी भर भाईचारे की बात की। मैंने सवाल ही तो पूछे थे। क्या किसी के पूजा स्थल पर बिना उनकी इजाजत के धर्मस्थल धर्मस्थल पर झंडा फहराना उचित है? किसी भी जूलूस में हथियार प्रदर्शन करने पर मेरे शासनकाल में रोक लगाई थी। आर्म्स एक्ट में तीन इंच से बड़ी ब्लेड के लिए भी लाइसेंस जरूरी है। खंडवा में धार्मिक जुलूस में तलवार और हथियार लहराए गए। इन अवैध हथियारों पर जिला प्रशासन ने कार्रवाई क्यों नहीं की? साफ है कि दंगे प्रायोजित हैं।

इंदौर में भी तीन मामले दर्ज

उधर धार्मिक उन्माद भड़काने के मामले में इंदौर जिले में भी पूर्व मुख्यमंत्री सिंह के खिलाफ तीन प्रकरण दर्ज हुए हैं। जिले के किशनगंज, खुड़ैल और महू थाने में शिकायत के बाद पुलिस ने प्रकरण दर्ज किए हैं। इसी तरह बैतूल में भी उनके खिलाफ मामला दर्ज हुआ है।

Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment