.....

अच्छे काम का प्रचार जरूरी: CM शिवराज

 भोपाल : मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि बिना जनभागीदारी के कोई काम सफल नहीं हो सकता। अकेली सरकार कुछ नहीं कर सकती। अच्छे कामों का प्रचार-प्रसार जरूरी है ताकि इसे कर रहे लोगों की हौसला अफजाही हो और वे खुद भी और बेहतर काम करने आगे आए तथा दूसरों को भी प्रेरित करें। स्वयंसेवी संगठन बेहतर काम कर पाएं हमे प्रदेश में ऐसा वातावरण बनाना होगा।


कुशाभाऊ ठाकरे सभागार में अटल बिहारी बाजपेयी सुशासन एवं नीति विश्लेषण संस्थान द्वारा सतत विकास में भागीदारी और अनुभवों को साझा करने के लिए आयोजित दो दिवसीय स्वयंसेवी सम्मलेन के समापन के अवसर पर संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने यह बात कही। उन्होंने कहा कि जनभागीदारी से बड़ी से बड़ी लड़ाई लड़ना आसान हो जाता है। कोविड काल का अनुभव है, हम एक अनजान बीमारी से लड़ रहे थे। हथियार नहीं थे हमारे पास। कोविड के सेम्पल लेने से लेकर भोजन, दवाएं, अनाज फल बंटवाने में हमने जनता का, स्वयंसेवी संस्थाओं का सहयोग लिया। ग्रामीण अंचलों में पंचायतों के सरपंच, पंचायत सचिव से लेकर हर सरकारी अमले और आमजन को साथ लिया उस कठिन दौर में जनता साथ हुई तो कोविड की लड़ाई आासन हो गई।

मुख्यमंत्री ने कहा कि यह दो दिन का सम्मलेन नये युग को  प्रारंभ करेगा। जो भी  निष्कर्ष, अनुशंसाएं आएंगी उन्हें लागू करने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे। एक-एक सुझाव पर अमल करूंगा, गु्रप में चर्चा कर फैसला करेंगे।

अच्छे कामों का प्रचार नहीं करता मीडिया
मुख्यमंत्री ने कहा कि समाज में अच्छे काम होते है लेकिन कभी अखबारों की हेडलाइन नहीं बनते ऐसा क्यों है। न्यूज वेल्यू देखते है। अच्छे काम कभी सुर्खियां नहीं बनते।  उन्होंने कहा कि पत्रकार मित्र कहते है कि बुंदेलखंड में तालाब बना दिए , पानी बचा दिया इसमें नया क्या।  कुत्ता आदमी को काटे वह न्यूज नहीं है लेकिन आदमी कुत्ते को काटे वह न्यूज है।

एनजीओ पंजीयन के लिए जनअभियान परिषद बनाएगा संस्था
जनता की समस्याओं के लिए लोक सेवा केन्द्र है वैसे ही एनजीओ के पंजीयन की दिक्कतों को हल करने जनअभियान परिषद  एक संस्था का गठन कर पंजीयन से लेकर बाकी कामों में मदद सहयोग करे। जनअभियान परिषद के साथियों की ट्रेनिंग होगी। सुशासन संस्थान यह करेगा। उन्होंने कहा कि 11 से जलाभिषेक प्रारंभ हो रहा है।  इसमें चैक डेम, स्टाप डेम, नये तालाब, रेन वाटर हार्वेस्टिंग जनता की भागीदारी से कराएंगे। हम उर्जा साक्षरता का काम कर रहे है। ढंग से उर्जा साक्षरता अभियान चले तो प्रदेश में चार हजार करोड़ रुपया प्रदेश का बचा सकते है।

इंदौर की स्वच्छता और भोपाल में टैक्स सखी ने कमाल कर दिया
मुख्यमंत्री ने कहा कि स्वच्छता में इंदौर नंबर वन है पांचवी बार। अकेली सरकार ने यह नहीं किया । सब जनभागीदारी से हुआ। हमारी बहनों ने प्रदेश में तीस हजार करोड़ का योगदान दिया। उन्होंने भोपाल के ग्रामीण अंचलों में टैक्स सखियों द्वारा पच्चीस लाख रुपए के टैक्स वसूली को लेकर भोपाल कलेक्टर की तारीफ की। उन्होंने कहा किआमतौर पर टैक्स देने की गांव मेें आदत ही नहीं, टैक्स देते नहीं लोग। लेकिन भोपाल में टैक्स सखियों ने  25 लाख कलेक्ट किए , उन्होंने चमत्कार किया है ।

एनजीओ लेने के लिए नहीं
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि कुछ नेता एनजीओ चलाते है। वे चाहते है कि कुछ मिल जाए। एनजीओ इसके लिए नहीं है। ऐसे लोगों की संख्या कम है। अधिकांश एनजीओ अच्छा काम कर रहे है।

Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment