.....

इंदौर में फर्जी आइडीए अफसर गिरफ्तार

इंदौर। पुलिस ने दो ठगोरों को गिरफ्तार किया है जो आइडीए एवं बैंक अफसर बनकर लोगों से लाखों रुपयों की धोखाधड़ी करते थे। आरोपितों ने इंदौर विकास प्राधिकरण की योजना-134 में प्लाट व रो हाऊस आवंटन करवाने का झांसा देकर 25 लाख रुपये ठगे थे।पुलिस गिरोह के अन्य सदस्यों की तलाश कर रही है।



विजयनगर पुलिस के मुताबिक 25 अक्टूबर 2019 को प्रगतिशील सहकारी साख संस्था के पदाधिकारी घनश्याम पाटील व अन्य की शिकायत पर आरोपित संतोष जैन उर्फ संजू और बंटी उर्फ विपिन खंडेलवाल के खिलाफ धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज किया है।पाटील ने पुलिस को बताया कि वर्ष 2014 में आरोपितों ने खुद को आइडीए और बैंक अफसर बताया और कहा कि आइडीए की योजना 134 में रो हाउस और प्लाट आवंटन की प्रक्रिया चल रही है। आरोपितों ने इस योजना में प्लाट व रो हाऊस का आवंटन करवाने के नाम पर अलग अलग किस्तों में 25 लाख रुपये जमा करवा लिए।

एक साल बाद भी रो हाऊस और प्लाट न मिलने पर आइडीए से जानकारी निकाली तब पता चला उनके साथ धोखा हुआ है। पीड़ितों ने थाना व अफसरों को शिकायत की लेकिन सुनवाई नहीं हुई। सीएम हेल्प लाइन पर शिकायत करने पर वर्ष 2019 में कायमी हुई लेकिन आरोपितों की गिरफ्तारी टलती गई। शुक्रवार रात टीआइ तहजीब काजी ने एसआइ प्रहलाद खंडाते को लेकर दबिश दी और दो आरोपित संतोष जैन निवासी शिवकंठ कालोनी और विजय यादव निवासी मालवीय नगर को गिरफ्तार कर लिया।


Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment