.....

राजधानी में तापमान बढ़ने का सिलसिला जारी

 भोपाल। गुजरात की तरफ से लगातार आ रही गर्म हवाओं से मध्यप्रदेश में अधिकतम तापमान के बढ़ने का सिलिसिला जारी है। हालांकि रात के तापमान में विशेष बढ़ोतरी नहीं हो रही है। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक राजस्थान और उससे लगे गुजरात पर प्रेरित चक्रवात बना हुआ है। जिस स्थान पर यह मौसम प्रणाली मौजूद है, वहां तापमान काफी बढ़ा हुआ है। इस वजह से वहां से गर्म हवाएं आ रही हैं। अभी तीन-चार दिन तक तापमान में वृद्धि होने का दौर जारी रहने की संभावना है। उधर प्रदेश में सबसे अधिक 37 डिग्रीसेल्सियस तापमान खंडवा, खरगोन, राजगढ़ एवं नर्मदापुरम में दर्ज किया गया। सबसे कम 12 डिग्रीसे. तापमान रीवा, मंडला, मलाजखंड, खजुराहो एवं नौगांव में दर्ज किया गया।

मौसम विज्ञान केंद्र के मौसम विज्ञानी पीके साहा ने बताया कि शनिवार को राजधानी का अधिकतम तापमान 34.4 डिग्रीसे. रिकार्ड किया गया। जो सामान्य से एक डिग्रीसे. अधिक रहा। साथ ही यह शनिवार के अधिकतम तापमान 33.7 डिग्रीसे. की तुलना में 0.7 डिग्रीसे. अधिक रहा। न्यूनतम तापमान 14.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। जो सामान्य से दो डिग्री सेल्सियस रहा। शनिवार को भी न्यूनतम तापमान 14.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ था। साहा के मुताबिक वर्तमान में हवा का रुख पश्चिमी एवं उत्तर-पश्चिमी बना हुआ है।

गुजरात की तरफ से आ रही गर्म हवाओं के कारण प्रदेश में दिन का तापमान बढ़ने लगा है। मौसम विज्ञान केंद्र के पूर्व वरिष्ठ मौसम विज्ञानी अजय शुक्ला ने बताया कि वर्तमान में दक्षिणी राजस्थान और उससे लगे उत्तरी गुजरात पर एक प्रति चक्रवात बना हुआ है।

गुजरात में काफी गर्मी पड़ रही है। प्रति चक्रवात के असर से गुजरात की तरफ से आ रही गर्म हवाओं के कारण मध्यप्रदेश में दिन का तापमान में बढ़ने लगा है। जिस स्थान पर प्रेरित चक्रवात बना हुआ है। वह इलाका रेतीला एवं शुष्क है। इस वजह से वहां काफी गर्मी पड़ रही है, लेकिन रात में वहां का तापमान कम हो जाता है। इस वजह से रात में वहां से आने वाली हवाओं में ठंडक रहती है। इस वजह से प्रदेश में रात का तापमान अधिक नहीं बढ़ रहा है। दो-तीन दिन में अधिकतम तापमान में दो-तीन डिग्रीसे. तक की बढ़ोतरी होने के आसार हैं।


Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment