.....

खेल महाकुंभ 2022 का शुभारंभ - पीएम नरेंद्र मोदी

 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुजरात के दो दिन के दौरे पर हैं। अपने दौरे के आखिरी दिन शनिवार को अहमदाबाद में रोड शो किया। राजभवन से सरदार पटेल स्टेडियम पहुंचे। उन्होंने एक समारोह में खेल महाकुंभ 2022 का शुभारंभ किया। उन्होंने कहा कि मैं मुख्यमंत्री भूपेंद्रभाई पटेल को इस भव्य आयोजन के लिए बधाई देता हूं। कोरोना महामारी के कारण दो वर्ष तक खेल महाकुंभ पर ब्रेक लगा था। सीएम भूपेंद्र ने जिस भव्यता के साथ इस आयोजन को शुरू किया। उसने युवाओं में एक नया जोश भर दिया है।


पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि मेरे सामने युवा जोश का ये सागर है। ये उमंग बता रही हैं कि गुजरात का नौजवान आसमान छुने को तैयार हैं। उन्होंने कहा, 12 साल पहले मुख्यमंत्री के नाते मैंने खेल महाकुंभ की शुरुआत की थी। आज मैं कह सकता हूं कि जिस सपने को बीज मैंने बोया था। आज वो वट वृक्ष का आकार लेते दिख रहा है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने क्या-क्या कहा

- 2010 में पहले खेल महाकुंभ में ही गुजरात ने 16 खेलों में 13 लाख खिलाड़ियों के साथ इसका आरंभ किया था।

- खेल महाकुंभ से निकलने वाले युवा ओलंपिक, कॉमनवेल्थ, एशियन गेम्स समेत कई वैश्विक खेलों में देश और गुजरात के युवा जलवे दिखा रहे हैं। ऐसी ही प्रतिभाएं इस महाकुंभ से निकलने वाली हैं।

- खिलाड़ियों के चयन में पारदर्शिता की कमी भी बड़ा फैक्टर थी। सारी प्रतिभा परेशानी जूझने में निकल जाती थी। उस भंवर से निकलकर युवा आकाश छू रहे हैं। सोना और चांदी की चमक देश के आत्मविश्वास को चमका रही है।

- दुनिया का सबसे युवा देश खेल के मैदान में एक ताकत बनकर उभर रहा है। टोक्यो ओलंपिक में भारत ने 7 मेडल पहली बार जीते हैं। यह रिकॉर्ड पैरालंपिक में भी बनाया है।

- लाखों युवाओं के सामने हिम्मत के साथ कह सकता हूं कि भारत की युवा शक्ति इसे बहुत आगे लेकर जाएगी।वो दिन दूर नहीं जब हम कई खेलों में, कई गोल्ड एक साथ जीतने वाले देशों में हिंदुस्तान का तिरंगा भी लहराता होगा।

- यूक्रेन से नौजवान युद्ध के मैदान से वापस आये हैं। उन्होंने बताया कि तिरंगे की आन, बान, शान क्या होती है। ये हमने यूक्रेन में अनुभव किया है।


Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment