.....

मध्‍य प्रदेश में अगले साल से मेडिकल और इंजीनियरिंग पढ़ाई हिंदी में, एक लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी: CM शिवराज

 इंदौर। मध्‍य प्रदेश में अगले साल से मेडिकल और इंजीनियरिंग पढ़ाई हिंदी में करायी जाएगी। अगले साल तक 1 लाख युवाओं को शासकीय सेवा में लिया जाएगा,लेकिन सभी को शासकीय नौकरियां नहीं दी जा सकती,इसलिए हम प्राइवेट सेक्टर में भी अवसर बढ़ाने के प्रयास कर रहे हैं।


मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार को यहां गणतंत्र दिवस समारोह को संबोधित करते हुए यह बात कही। उन्‍होंने कहा कि हमने फैसला किया है सीएम राइज स्कूल खोलने का,18 से 26 करोड़ तक के भवन बनेंगे।हर एक बच्चे में प्रतिभा होती है। अवसर मिल जाए तो गरीब,सामान्य परिवार के बच्चे असाधारण प्रतिभा का परिचय देते हैं।

उन्‍होंने कहा कि हमने पिछले 1 साल में सरकारी नौकरियों में 44 हजार सरकारी नौकरियों में हमने भर्तियां की हैं।

हमने तय किया था एक लाख रोजगार हर माह देंगे, मुझे प्रसन्नता है कि 2 महीने में ही हमने 5 लाख 26 हजार लोगों को स्वरोजगार के लिए अलग-अलग योजनाओं से ऋण दिलवाकर उनकी आजीविका की गाड़ी पटरी पर लेकर आए थे। 25 फरवरी के दिन फिर रोजगार दिवस मनाया जाएगा।

सीएम ने कहा कि ग्रामीण आजीविका मिशन के माध्यम से हमारी बहनें आर्थिक रूप से सशक्त हों इसके प्रयास लगातार जारी हैं। अलग-अलग चीजों का निर्माण करके रोजगार के नए अवसर पैदा हो रहे हैं। इसी साल मप्र में 38 हजार करोड़ का निवेश आया है। औद्योगिक ​हब के रूप में मप्र उभर रहा है। समाज के हर वर्ग का कल्याण हो ये हमारा संकल्प है। चिन्हित ब्लॉकों में राशन आपके द्वार योजना प्रारंभ कर दी गई है।

उन्‍होंने कहा कि 16 फरवरी संत रविदास जी की जयंती से 14 अप्रैल बाबा साहेब अंबेडकर की जयंती तक अनुसूचित जाति के कल्याण के लिए अनेक कार्यक्रम चलाए जाएंगे। सीएम ने कहा कि सरकार के खजाने पर सबका हक है। मेरे बहनों और भाइयों सस्ता राशन देने की योजना,मुख्यमंत्री अन्नपूर्णा योजना, 16 हजार करोड़ एक साल में हमने गरीबों को राशन देने पर खर्च किया। 7 तारीख का दिन अन्नोत्सव का होता है। गरीब को राशन प्रदान किया जाता है।

Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment