.....

हम ऐसा माहौल बनाएं कि अपराधी, माफिया नेस्तनाबूद हो जाएं- सीएम शिवराज

भोपाल। । मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आज कलेक्टर-कमिश्नर, आइजी-एसपी के साथ वीडियो कांफ्रेंसिग के जरिए समीक्षा बैठक की। वीडियो कॉन्फ्रेंस में सीएस, डीजीपी,एसीएस होम,एसीएस जीएडी एक्चुअल और कमिश्नर्स/कलेक्टर्स/ पुलिस महानिरीक्षक /पुलिस अधीक्षक वर्चुअल रूप से उपस्थित हुए। गत बैठक 29 नवंबर ,2021 को हुई थी।


बैठक के दौरान सीएम शिवराज ने कहा कि यह कलेक्टर-कमिश्नर कॉन्फ्रेंस जनता को सुशासन देने का महत्वपूर्ण माध्यम है। विकास, जनकल्याण, योजनाओं का बेहतर क्रियान्वयन, बिना परेशानी सबको सेवा का लाभ मिले। मप्र शान्ति का टापू रहे। हम ऐसा माहौल बनाएं कि अपराधी, माफिया नेस्तनाबूद हो जाएं। हमने तय किया है कि 29 दिन कार्य करें और एक दिन उसकी समीक्षा करें। जो अच्छा काम करते हैं, मुझे और प्रदेश की जनता को खुशी होती है। गड़बड़ करना अक्षम्य अपराध है। हमारा परफॉर्मेंस लोगों के कल्याण से संबंधित और आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश का माध्यम है। 

मुख्यमंत्री शिवराज ने कानून व्यवस्था की समीक्षा करते हुए कहा कि वातावरण बिगाड़ने वाले एनजीओ को चिन्हित कर कार्रवाई करें। डकैतों को बिल्कुल न पनपने दें। शुरू में ही उन पर कड़ी कार्रवाई करें। इस दौरान मुख्यमंत्री ने प्रदेश के अनेक जिलों में अपराधों पर नियंत्रण करने की गई प्रतिबंधात्मक कार्रवाई पर बधाई दी है। उन्‍होंने कहा कि कड़ी कार्रवाई से ही हम अपराध शून्य करने की दिशा में आगे बढ़ सकते हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अपराधियों को सजा दिलवाने में बेहतर कार्य करने वाले रायसेन, दतिया, भिंड, शहडोल जिले को बधाई दी। मुख्यमंत्री शिवराज ने कहा कि सभी जिलों में चिन्हित अपराध के संबंध में हर माह समीक्षा बैठक का आयोजन हो। अपराधियों को सजा दिलाने सभी सक्षम प्रयास करें। तभी ऐसी समीक्षा सार्थक होगी।

मुख्यमंत्री ने मुस्‍कान अभियान के तहत गुम बालक-बालिकाओं की बरामदगी के संबंध में बेहतर कार्रवाई करने पर इंदौर, भोपाल, जबलपुर, धार, सागर, बैतूल, देवास, अलीराजपुर, अशोकनगर और आगर मालवा जिले को बधाई दी। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि ऑपरेशन मुस्कान चलता रहे, उसकी समीक्षा भी लगातार करते रहें। मुख्यमंत्री ने बैठक के दौरान अधिकारियों को महिला अपराध रोकने के संबंध में सभी आवश्यक कदम उठाने के निर्देश दिए और कहा कि किसी भी कीमत पर महिला अपराध रोकना हमारी प्राथमिकता है।

मुख्यमंत्री ने प्रदेश में भू- माफियाओं, बदमाशों और कब्जा करने वाले तत्वों के विरुद्ध की गई कार्रवाई की विस्तार से समीक्षा की और कहा कि हम किसी को भी आतंक का पर्याय नहीं बनने देंगे। मुख्यमंत्री चौहान ने भू-माफियाओं पर कार्रवाई करने वाले अव्वल 5 जिलों शाजापुर, गुना, सीहोर,आगर और ग्वालियर को बधाई दी है। इन जिलों में भू माफियाओं से कुल 347 एकड़ भूमि मुक्त कराई गई है। गुना में सर्वाधिक 123 एकड़ भूमि मुक्त की गई। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने छतरपुर, टीकमगढ़, जबलपुर, खरगोन और रतलाम जिले में अवैध रेत जप्त करने की प्रभावी कार्रवाईयों पर संतोष व्यक्त किया। मिलावटी खाद्य पदार्थ निर्माण करने वालों के विरुद्ध कार्रवाई करने में ग्वालियर, इंदौर, जबलपुर, भिंड, सतना, आगर, दतिया, मुरैना, खरगोन, कटनी, शिवपुरी, भिंड, धार, बुराहनपुर, श्योपुर जिले में बेहतर कार्य हुआ है। सीएम ने कहा कि जनता में विश्वास का भाव लाना है कि इस दिशा में हम बेहतर कार्य कर रहे।


Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment