.....

भारत की हार के बाद द्रविड़ और कोहली पर पूर्व पाकिस्तानी गेंदबाज का फूटा गुस्सा, केएल राहुल का किया बचाव

 भारतीय क्रिकेट टीम दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीन टेस्ट मैचों की सीरीज के दूसरे मुकाबले में सात विकेट से हार गई। जोहानिसबर्ग में खेले गए दूसरे टेस्ट को अफ्रीकी टीम ने कप्तान डीन एल्गर के नाबाद 96 रनों की पारी की बदौलत अपने नाम कर लिया। इस टेस्ट में केएल राहुल के रक्षनात्मक कप्तानी को लेकर सवाल खड़े हो रहे हैं। वहीं, पाकिस्तान के पूर्व स्पिनर दानिश कनेरिया ने मुख्य कोच राहुल द्रविड़ और नियमित कप्तान विराट कोहली को आड़े हाथों लिया है।


कनेरिया ने कहा कि 29 वर्षीय राहुल को हार के लिए दोषी नहीं ठहराया जा सकता क्योंकि वह अपने करियर में पहली बार टेस्ट टीम की कप्तानी कर रहे थे। पाकिस्तान के इस पूर्व गेंदबाज का मानना है कि कोहली और मुख्य कोच राहुल द्रविड़ की जोड़ी को चौथे दिन ड्रेसिंग रूम से राहुल की मदद करनी चाहिए थी।
कनेरिया ने अपने यूट्यूब चैनल पर पोस्ट किए गए वीडियो में कहा, "मैच में टीम इंडिया बैकफुट पर थी, लेकिन उन्हें दक्षिण अफ्रीका को रन हासिल करने के लिए कड़ी मेहनत करानी चाहिए थी। ऐसा नहीं हुआ और अफ्रीकी टीम ने बचे हुए रन बहुत आसानी से बनाए। गेंदबाजी और गेंदबाजी में बदलाव अच्छे नहीं थे। हम राहुल की आलोचना नहीं कर सकते क्योंकि वह पहली बार कप्तानी कर रहे थे। विराट कोहली और राहुल द्रविड़ को गेंदबाजी में बदलाव के लिए निर्देश भेजना चाहिए था।"
41 वर्षीय कनेरिया ने कहा कि भारतीय थिंक टैंक को तेज गेंदबाजों को छोटे स्पैल में गेंदबाजी करने के लिए कहना चाहिए था। टीम इंडिया ने रविचंद्रन अश्विन का उपयोग सही तरीके से नहीं किया। कनेरिया ने कहा, "उन्हें तेज गेंदबाजों- जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी और मोहम्मद सिराज को छोटे स्पैल गेंदबाजी करने के लिए कहना चाहिए था। अश्विन का इस्तेमाल नहीं किया गया था। केवल 11 रन शेष थे तब अश्विन का इस्तेमाल किया गया था। शमी और बुमराह ने रन दिए। सिराज के मामले में भी ऐसा ही था। टेस्ट क्रिकेट में धैर्य होना सबसे ज्यादा जरूरी है।" 
कनेरिया ने दक्षिण अफ्रीकी टीम की भी प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि भारत के लिए तीसरे और अंतिम टेस्ट में वापसी करना बहुत मुश्किल होगा। सीरीज अब 1-1 की बराबरी पर आ चुकी है। तीसरा और निर्णायक टेस्ट केप टाउन के न्यूलैंड्स स्टेडियम में 11 से 15 जनवरी तक खेला जाएगा।
Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment