.....

इस बार पार्टी बदले इसलिए हार गए, अन्यथा हमें कोई नहीं हरा सकता : इमरती देवी

 ग्वालियर । लघु उद्योग निगम की अध्यक्ष इमरती देवी का भाषण रविवार की सुबह से इंटरनेट मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है। डीडी नगर में शनिवार की शाम को महिलाओं से जुड़े कार्यक्रम को संबोधित करते हुए इमरती देवी की जुबां पर हार का दर्द फूट पड़ा। इमरती देवी ने कहा कि 2008 से वे पुरुषों की सीट से अब तक विधायक रहीं। इस बार जरूर हार गईं, इतना कहने के साथ उन्होंने मुस्कराते हुए कहा कि इस बार हमने पार्टी बदल लई (ली) थी, अन्यथा हमें कोऊ(कोई) नहीं हरा सकता था।

इमरती देवी केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया की समर्थक मानी जाती हैं। मंत्री पद से त्याग पत्र देकर वे सिंधिया के साथ भाजपा में शामिल हुई थीं। विधानसभा उपचुनाव में उन्हें हार का सामना करना पड़ा था।

लघु उद्योग निगम की अध्यक्ष इमरती देवी ने महिलाओं को राजनीति में आने के लिए प्रेरित करते हुए अपने संबोधन में कहा कि विधानसभा व लोकसभा छोड़कर सभी चुनावों में महिलाओं को 50 प्रतिशत आरक्षण है। पांच-दस प्रतिशत हम लोग पुरुषों को हराकर छीन लेते हैं।

आज इमरती देवी के पैर छूने के लिए लाइन लगाते हैं

इमरती देवी ने कहा कि पहले कई लोग हमारे संबंध में कई तरह की बातें करते थे। जो मन में आता था वह बोलते थे। आज वही लोग इमरती देवी के पैर छूने के लिए लाइन लगाकर खड़े रहते हैं। इसी परिवर्तन के लिए आगे आकर काम करना है। आज महिलाएं हर क्षेत्र में आगे बढ़ रही हैं।

Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment