.....

न्यायालय ने संविदा कर्मचारियों की कई मांगों को पूरा करने के दिए निर्देश

 जबलपुर। मध्य प्रदेश विद्युत मंडल तकनीकी कर्मचारी संघ के प्रांतीय महासचिव हरेंद्र श्रीवास्तव के द्वारा अनेकों वर्षों से लगातार संविदा कर्मचारियों के नियमितीकरण के लिए प्रयास किया जा रहा था जिसमें सरकार और शासन से अनेकों बार गुहार लगाई इसी कड़ी में जन संकल्प 2013 में सरकार से संविदा कर्मचारियों के नियमितीकरण को शामिल कराया लेकिन सरकार के द्वारा नियमितीकरण ना करते हुए संविदा कर्मचारियों के नियमों में बार-बार परिवर्तन किया गया इन नियमों में सरकार एवं कंपनी द्वारा अनेक मानव अधिकारों एवं श्रम कानूनों का उल्लंघन कर कर्मचारियों का शोषण किया जा रहा था इन नियमों में उचित संशोधन करने हेतु भी हमारे द्वारा सरकार एवं प्रबंधन से निवेदन किया गया लेकिन जब किसी ने भी हमारी बात नहीं सुनी तब संगठन के द्वारा न्यायालय की शरण में जाने का निर्णय लिया गया दिनांक 8 /6/21 को संविदा कर्मचारियों के 25 बिंदुओं को लेकर हम न्यायालय की शरण में गए जिस पर दिनांक 30/7/ 2021 को 52 दिनों में न्यायालय द्वारा पूर्व क्षेत्र कंपनी प्रबंधन को 25 बिंदुओं पर नीतिगत नियमानुसार निर्णय लेने हेतु 90 दिन का समय निर्देशित किया गया है अधिवक्ता श्री अभिलाष डे के द्वारा पैरवी की गई है संघ द्वारा खुशी जाहिर कर न्यायालय का सादर धन्यवाद दिया है संघ ने जिन बिंदुओं पर न्यायालय की शरण ली थी मुख्य बिंदु हैं 1.हर 3 वर्ष में दिए जाने वाला ब्रेक समाप्त कर 60 वर्ष की उम्र तक अनुबंध किया जाए 2. बंद किया गया एनपीएस पुनः प्रारंभ किया जाए 3.3/07 /2015 की वेतन विसंगति दूर की जावे 4.संविदा कर्मचारियों का 20 लाख का बीमा एवं मेडिकल सुविधा दी जावे 5 .1% इंक्रीमेंट की जगह 3% इंक्रीमेंट प्रतिवर्ष दिया जावे 6.वर्ष में दो बार घोषित DA दिया जावे 7 .बेसिक में बढ़ोतरी की जावे एक बोनस प्रमोशन जोखिम भत्ता रात्रि कालीन भत्ता एक्स्ट्रा वेतन आदि दिया जावे 9 आईटीआई संविदा कर्मचारियों को चतुर्थ श्रेणी से तृतीय श्रेणी में परिवर्तन किया जाए 10.विभागीय वरीयता के आधार पर संविदा कर्मचारियों का नियमितीकरण किया जावे। संघ के हरेंद्र श्रीवास्तव, एस के मौर्या, रमेश रजक, के लोखंडे, जेके कोस्टा, मोहन दुबे, राजकुमार सैनी, अजय कश्यप, लखन सिंह राजपूत, अरुण मालवीय, इंद्रपाल सिंह, सुरेंद्र मेश्राम, दशरथ शर्मा, मदन पटेल, शशि उपाध्याय, महेश पटेल, आजाद सिंह, वीरेंद्र रोहिताश, गोपाल यादव, जगदीश मेहरा, पुरुषोत्तम पटेल, मुकेश पटेल आदि।




Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment