.....

मुख्यमंत्री ने 15 नंवबर को जनजातीय गौरव दिवस मनाने की घोषणा की

 भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि हर साल 15 नवंबर को बिरसा मुंडा की जयंती जनजातीय गौरव दिवस के रूप में मनाई जाएगी और इस दिन पूरे प्रदेश में अवकाश रहेगा। 

विधानसभा परिसर में  मुख्यमंत्री ने कहा कि  कांग्रेस ने भ्रम फैलाने के लिये स्तरहीन घटिया राजनीती की। कांग्रेस ने घड़ियाली आंसू बहाने का काम किया आदिवासी भाइयो के नाम पर। श्रद्धाजंलि के कार्यक्रम को बाधित करने का काम किया। दिवगंत नेताओ का अपमान करने का काम किया है।  आदिवासियों के लिए भाजपा से बड़ी हितैसी पार्टी कोई नहीं।



कांग्रेस की जब सरकार रही है, दस सालों तक, दिग्विजय सिंह जी ने भर्तियां नहीं की। आज बैकलॉग की बात करते हैं।

पद खाली रहते है तो कांग्रेस की सरकार के कारण, भाजपा पूछना चाहती है आज नेता प्रतिपक्ष से पैसा एक्ट लागू किया तुमने, फिफ्थ शैड्यूल (पांचवीं अनुसूची अनुसूचित ) पर कितना काम किया तुमने, केवल आंसु बहाना भ्रम फैलाने का काम है।
गांव-गांव में आश्रम शालाएं, छात्रावास खोले तो भाजपा की सरकार ने खोले, हम थे जिन्होंने फैसला किया यदि ट्राइबल बच्चे अगर प्राइवेट इंजीनियरिंग, मेडिकल कॉलेज में पढ़ेंगे तो फीस चाहे 8-10 लाख रुपया साल हो, उनकी फीस हम भरवाएंगे।
उन बच्चों को विदेशों में पढ़ने के लिए हम भेज रहे हैं, भाजपा ने तय किया है, वनोपज को मिनिमम सपोर्ट प्राइज पर खरीदना हमने प्रारंभ किया। 
लाखों लोगों को पट्टा भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने दिया और आज मैं कहना चाहता हूं हमारे ट्राइबल भाई-बहनों के कल्याण में कोई कसर भाजपा सरकार नहीं छोड़ेगी।
 पूरे प्रदेश में जनजातीय संस्कृति, परंपरा और जीवन मूल्यों के लिए, रोजगार व बाकि व्यवस्थाओं के लिए हम विशेष अभियान चलाएंगे।
Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment