.....

जल्द ही डेल्टा वेरिएंट विश्व स्तर पर बन जाएगा सबसे प्रमुख कोरोना स्ट्रेन: डब्ल्यूएचओ

 वैश्विक स्तर पर कोरोना महामारी से उथल पुथल है। कोरोना का डेल्टा वेरिएंट विश्व के कई अन्य देशों में तेजी से फैल रहा है। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने चेतावनी देते हुए कहा कि डेल्टा वेरिएंट 100 से अधिक देशों में फैल गया है। जिस तरह से यह फैल रहा है वह जल्द ही विश्व स्तर पर सबसे प्रमुख कोरोना का स्ट्रेन बन जाएगा। डब्ल्यूएचओ की शीर्ष वैज्ञानिक व दक्षिण पूर्व एशिया की क्षेत्रीय निदेशक डॉ पूनम खेत्रपाल सिंह ने कहा कि कोरोना का डेल्टा वेरिएंट अन्य की अपेक्षा सबसे तेजी से फैलता है। जो कि बेहद चिंता की बात है। 



इसके साथ ही उन्होंने बताया कि डब्ल्यूएचओ के कोविड-19 वैक्सीन ग्लोबल एक्सेस कार्यक्रम के माध्यम से भारत को मॉडर्ना वैक्सीन की 75 लाख  खुराक की पेशकश की गई है।वहीं, देश में कोरोना महामारी की दूसरी लहर के लिए जिम्मेदार माने जाने वाला डेल्टा वेरिएंट इसी वायरस के अल्फा वेरिएंट से 40-60 फीसद तक ज्यादा संक्रामक है। भारतीय सार्स-कोव-2 जीनोमिक्स कंसोर्टियम  के सह अध्यक्ष डा. एनके अरोड़ा ने यह जानकारी देते हुए कहा कि अभी भी देश में रोजाना सामने आ रहे नए मामलों में से 80 फीसद इसी वेरिएंट के हैं। इसी वेरिएंट का असर है कि देश के कई हिस्सों में दूसरी लहर का प्रकोप बना हुआ है और कोरोना संक्रमण के प्रतिदिन 40 हजार के आसपास नए मामले पाए जा रहे हैं।


Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment