.....

दुग्ध समितियों के सदस्यों को मिलेगी 3 करोड़ की बोनस राशि


भोपाल : मध्य प्रदेश का भोपाल सहकारी दुग्ध संघ सरकारी नहीं सहकारी संस्था है और इसमें जो मुनाफा होता है वह इससे जुड़े सभी समितियों के सदस्यों को मिलता है । इस वर्ष 3 करोड़ रुपए की राशि शीघ्र ही सभी सदस्यों में वितरित की जाएगी । यह बात संभागायुक्त तथा अध्यक्ष भोपाल सहकारी दुग्ध संघ कवीन्द्र कियावत ने बुधवार को राजगढ़ जिले में नरसिंहगढ़ के दुग्ध शीत केंद्र में दुग्ध सहकारी संस्थाओं के अध्यक्षों व पदाधिकारियों की बैठक में कहीं । इस दौरान कलेक्टर नीरज कुमार सिंह, संघ के पदाधिकारी गण तथा अन्य जन उपस्थित रहे ।


          संभागायुक्त द्वारा उपस्थित जन को संबोधित करते हुए कहा कि दुग्ध उत्पादन के लिए विशेष प्रयास करें । महिला स्व-सहायता समूह की महिलाओं को जोड़ें, पुराने सदस्य जो समितियों से हट गए हैं उन्हें पुनः सक्रिय करें । उन्होंने इसके लिए ग्राम पंचायत स्तर पर शिविर लगाकर दुग्ध उत्पादकों के पशुओं का निशुल्क उपचार करने एवं इसी दौरान समितियों में सदस्यों को जोड़ने की बात कही । उन्होंने कहा कि दुग्ध संघ द्वारा नियमित भुगतान की व्यवस्था की गई है । समितियों के सदस्यों को ऋण देने के लिए खंड और जिला स्तर पर बैंकर्स के साथ कलेक्टर चर्चा करेंगे और किसानों को आसानी से ऋण मिल सके इसकी व्यवस्था करेंगे ।


        दुग्ध संघ के मुख्य कार्यपालन अधिकारी ने बताया कि नरसिंहगढ़ में 104 समितियों के 3496 सदस्य हैं, ब्यावरा में 136 समितियों के 4025 सदस्य हैं,राजगढ़ में 40 समितियों के 1295 सदस्य हैं । इस प्रकार जिले में कुल 280 समितियों में 8816 सदस्य हैं ।

 जिले में वर्तमान में इनसे 97,760 लीटर दूध प्रतिदिन संग्रहित किया जा रहा है, जिसकी औसत फैट 6 रूपये 80 पैसे हैं ।


  इस दौरान समितियों के सदस्यों ने समस्याएं बताईं, जिनके निराकरण के लिए आयुक्त द्वारा संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया गया । कियावत इससे पहले पचौर में भी संघ के कार्यक्रम में सम्मिलित हुए । 

Share on Google Plus

click News India Host

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment