कैबिनेट के विस्तार से पहले कद्दावर नेताओं का विरोध


भोपाल ! शिवराज कैबिनेट के दूसरे विस्तार की सुगबुगाहट के साथ ही मध्य प्रदेश में उन कद्दावर नेताओं का भारी विरोध हो रहा है जो लंबे समय तक मंत्री बने रहे।


कार्यकर्ताओं के साथ ही उन जिलों के विधायकों द्वारा भी कैबिनेट में नए चेहरों को शामिल किए जाने की मांग की जा रही है। महाकोशल में अजय विश्नोई, गौरीशंकर बिसेन, विंध्य क्षेत्र में राजेंद्र शुक्ल, मालवा अंचल में विजय शाह का भारी विरोध हो रहा है।  शिवराज कैबिनेट में सिर्फ पांच मंत्री हैं। इनमें से दो सिंधिया समर्थक और तीन भाजपा के कोटे से हैं। शिवराज कैबिनेट के दूसरे विस्तार के लिए तैयारियां शुरू हो गई हैं। कई स्तर पर चर्चाओं के दौर चल रहे हैं।
संभावना जताई जा रही है कि इसी सप्ताह कभी भी नए मंत्रियों को शपथ दिलाई जा सकती है। फिलहाल जो तैयारी है, उसके मुताबिक लगभग 23 मंत्रियों को शपथ दिलाने की तैयारी है। इसमें सिंधिया कैंप के आठ से 10 वे पूर्व विधायक हो सकते हैं, जो कांग्रेस छोड़कर भाजपा में आए हैं।13 चेहरे भारतीय जनता पार्टी के हो सकते हैं।

Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment