बिना स्वास्थ्य मंत्री के चल रही एमपी सरकार - कमलनाथ


भोपाल । मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने राज्य में कोरोना वायरस की स्थिति को देखते हुए शिवराज सिंह चौहान की सरकार पर हमला बोला है. कमलनाथ ने रविवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि मध्य प्रदेश अकेला ऐसा राज्य है जहां इस विकट घड़ी में भी स्वास्थ्य मंत्री नहीं है. मध्य प्रदेश में कांग्रेस सरकार को गिराने के विषय पर हमला करते हुए कमलनाथ ने कहा कि राहुल गांधी ने 24 मार्च की आधी रात से लॉकडाउन लगाए जाने से 40 दिन पहले COVID-19 के बारे में सरकार को अलर्ट किया था, लेकिन केंद्र सरकार उस समय मध्य प्रदेश को लेकर व्यस्त थी. इसलिए वायरस से निपटने की दिशा में सार्थक कदम नहीं उठाए गए.


मध्य प्रदेश में कोरोना महामारी से पीड़ित मरीजों की संख्या 500 के ऊपर हो गई है. इस बीच कोरोना को लेकर राजनीति तेज हो गई है. प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता कमलनाथ ने जमकर तंज कसा है. उनका आरोप है कि केंद्र की सरकार ने प्रदेश की कांग्रेस सरकार गिराने के लिए संसद की कार्यवाही चलाई. उन्होंने लॉकडाउन के ऐलान में केंद्र ने देरी का भी आरोप लगाया है. उन्होंने बीजेपी पर प्रदेश के लोगों को बेवकूफ बनाने का भी आरोप लगाया.
भोपाल में रविवार को कोरोना संक्रमण के तीन नए मामले आये है. इसके अलावा इंदौर में नए 17 मामलों की जानकारी मिली है. इसके बाद पूरे प्रदेश में संक्रमितों का आंकड़ा बढ़कर 549 हो गया है. यहां इससे 42 लोगों की मौत हो चुकी है. नए संक्रमितों की हिस्ट्री की जानकारी स्वास्थ्य विभाग जुटा रहा है.

Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment