जादवपुर यूनिवर्सिटी के छात्रों ने रोजाना 200 गरीबों को खाना खिला रहे हैं


नई दिल्ली ! कोरोना वायरस से जंग में देश भर के लोग अपने स्तर पर आर्थिक मदद कर रहे हैं। जहां एक तरफ पीएम केयर फंड में देश के दिग्गज व्यापारी, सेलिब्रिटी और आम लोग डोनेट कर रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ देश भर में कुछ लोग जमीनी स्तर पर गरीबों और मजदूरों की हर तरह से सहायता कर रहे हैं। देश भर में कई जगह लोग गरीबों को खाना और राशन बांट रहे हैं। इसी बीच यादवपुर विश्वविद्यालय के छात्र भी गरीबों की मदद के लिए आगे आए हैं।


यादवपुर विश्वविद्यालय के छात्रों ने कोरोना वायरस को लेकर जारी देशव्यापी बंद के कारण बेरोजगार हो गए कम से कम 200 लोगों को रोज भोजन कराने के लिए सामुदायिक रसोई की शरुआत की है। सामुदायिक रसोई से जुड़े एक छात्रों ने बुधवार को यह जानकारी दी। छात्र अविक ने कहा कि उन्होंने ने शिक्षकों और शिक्षणेत्तर कर्मचारियों एवं विश्वविद्यालय प्रशासन की मदद से सोमवार से यह पहल शुरू की।
उसने कहा कि यह रसोई यहां विश्वविद्यालय के विशाल मुख्य परिसर के एक कोने में स्थित है। छात्र ने कहा, ‘‘ खिचड़ी बनाने के लिए रोजाना करीब 2000 रूपये का खर्च आता है और विज्ञान विभाग के छात्रों द्वारा अध्यापकों की निगरानी में हैंड सेनेटाइजर बनाने पर 2500 रूपये अलग से।’’ अविक ने कहा कि छात्र लोगों से पैसे जुटा रहे हैं और इस रकम का लेखा-जोखा रख रहे हैं।

Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment