दो हफ्ते में मध्य प्रदेश में 13 गुना बढ़े मामले 


भोपाल/ इंदौर ! मध्य प्रदेश में तमाम प्रयासों के बावजूद कोरोना वायरस फैलता जा रहा है। ताजा आंकड़ों के मुताबिक यह राज्य के 52 जिलों में से 24 में फैल चुका है। इन जिलों में प्रदेश की 59 फीसदी आबादी रहती है।  दो हफ्ते के भीतर ही (31 मार्च से 15 अप्रैल सुबह) राज्य में कोरोना संक्रमितों की संख्या 13 गुना तक बढ़ चुकी है। हालांकि इनमें से 80 फीसदी मामले अकेले इंदौर और भोपाल जिले से हैं। 2011 की जनगणना के मुताबिक राज्य की जनसंख्या करीब 7.26 करोड़ है। इनमें से 24 जिलों में जहां मरीज मिले हैं, वहां की आबादी 4.29 करोड़ है। 


राज्य में कुल अभी तक 874 मामले सामने आए हैं, इनमें से 591 (62 प्रतिशत) इंदौर से हैं। जबकि भोपाल से 158 केस अभी तक सामने आए हैं, जो करीब 18 फीसदी हैं। 31 मार्च तक राज्य में 66 केस थे। 14 अप्रैल तक पूरे प्रदेश में 12,490 सैंपल को जांच के लिए भेजा जा चुका है। इस बीच इंदौर के खजराना क्षेत्र में थाना प्रभारी संतोष यादव कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इसके बाद यहां के सभी पुलिसकर्मियों को क्वारंटीन किया जा रहा है। इस बीच इंदौर के पुलिस महानिरीक्षक विवेक शर्मा ने यह सुझाव दिया था कि कोरोना संक्रमित क्षेत्र में कार्यरत थाना प्रभारी एवं पुलिस कर्मी को नियमित रूप से बदलते हुए अलग-अलग स्थानों पर तैनात किया जाए।
भोपाल गैस त्रासदी की जंग जीतने वाले पांच व्यक्ति कोरोना की जंग हारे
करीब 35 साल पहले हुई भयावह औद्योगिक त्रासदी भोपाल गैस कांड की जंग जीतने वाले पांच व्यक्ति कोरोना वायरस महामारी की जंग हार गए। इन पांचों की पांच अप्रैल से लेकर 12 अप्रैल के बीच कोविड-19 से मौत हुई है। कोरोना वायरस के संक्रमण से अब तक भोपाल में कुल पांच व्यक्तियों की मौत हुई और ये पांचों भोपाल गैस त्रासदी के पीड़ित थे।

Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment