इंदौर में 17 नए पॉजिटिव


मध्यप्रदेश के मिनी मुंबई कहे जाने वाले इंदौर में हालात दिनों दिनों बिगड़ते जा रहे है।इंदौर देश का आठवां संक्रमित शहर बन गया है।आए दिनों संक्रमित मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है।अब इंदौर से भोपाल भेजे गए 40 सैंपल्स में 17 मरीज कोरोना पॉजिटिव पाए गए है।अबतक यहां तीन की मौत हो गई है।इसके साथ ही इंदौर के लिए अब अगले 7 दिन महत्वपूर्ण हो गए हैं।हालांकि इसकी अभी पुष्टी नही की गई है।


सीएमएचओ डॉ प्रवीण जरिया का कहना है कि इंदौर से उस नमूने जांच के लिए भोपाल एम्स में भेजे गए थे, इन नमूनों में से 17 नमूने पॉजिटिव पाए गए हैं । इस बारे में एम्स की ओर से आज सुबह ही इंदौर के प्रशासन को सूचना दी गई है यह स्थिति इंदौर के लिए खतरनाक है। यह 17 नए मरीज पाए जाने के साथ ही इंदौर में कोरोना के मरीजों की संख्या बढ़कर 42 हो गई है। ऐसी स्थिति में अब इंदौर के लिए अगले 7 दिन महत्वपूर्ण और चुनौतीपूर्ण हो गए हैं। इन 7 दिनों के अंदर इंदौर की स्थिति को काबू में लाने के लिए बड़े और गंभीर प्रयास करना होंगे।।
इसी बीच इंदौर के एमजीएम मेडिकल कॉलेज की डील डॉ ज्योति बिंदल ने इस रिपोर्ट पर शंका जताई है। उनका कहना है कि कहीं ना कहीं कोई तकनीकी गलती हुई है। हम आज एक बार फिर यह सारे नमूने जांच के लिए भेजेंगे और उससे शाम तक स्थिति स्पष्ट हो जाएगी।।डीन  का कहना है कि @CMHO द्वारा AIIMS भोपाल भेजे गए 40 सैंपल में से 17 पॉजिटिव की सूचना का मीडिया द्वारा सूचित किया जा रहा है। वर्तमान समय तक AIIMS भोपाल से जारी पॉजिटिव और नेगेटिव मरीज़ की अधिकृत सूची उपलब्ध नहीं है ।
इंदौर के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग को भोपाल भेजे गए सैम्पल की जांच रिपोर्ट मिली है जिसमे से 17 लोगो कोरोना से संक्रमित पाए गए है और अब स्वास्थ्य विभाग सभी 17 लोगो को संक्रमण के दृष्टिकोण से इलाज में जुट गया है। बताया जा रहा है भोपाल से आई रिपोर्ट में 17 मरीजो में कोरोना की पुष्टि होने के बाद अब इंदौर में कोरोना पॉजिटिव मरीजो की संख्या 42 तक पहुंच गई है। वही 13 मरीजो की दोबारा जांच ICMR के निर्देश के अनुसार की जा रही है जिन्हें अभी संदिग्ध माना जा रहा है। फिलहाल, अकेले इंदौर में कोरोना से 3 मौत हो चुकी है वही पॉजिटिव मरीजो की संख्या बढ़कर 42 तक जा पहुंची है जो इंदौर के लिए एक बड़े खतरे की घन्टी माना जा रहा है। इसलिए हम आप से गुजारिश करते है कि आप स्वयं का ख्याल रखे और घरों में रहकर प्रशासन के निर्देशों का पालन करे।
कोरोनावायरस इंदौर में घातक होता जा रहा है। सोमवार को इस संक्रमण ने दो और लोगों की जान ले ली। चंदन नगर निवासी 49 वर्षीय महिला ने देर रात दम तोड़ दिया। इससे पहले दिन में एमआर-9 की राजकुमार कॉलोनी के 41 साल के व्यक्ति की मौत हो गई थी। हैरानी की बात ये है कि प्रशासन और सरकार की लाख कोशिशों के बावजूद यहां हालात सुधरने के बजाय बिगड़ते जा रहे है।दो दिन पहले यहां कलेक्टर ने टोटल लॉक डाउन किया था, लेकिन जनता की परेशानी और विपक्ष के उठते सवालों के चलते सोमवार को आदेश मे ढील दी गई थी, 5 से 7 बजे दूध औऱ दवाई वितरण के लिए रखा गया था, लेकिन यहां भी सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाई गई।ऐसे में प्रशासन और सरकार के सामने इंदौर चुनौती बन गया है। अगर अभी हालात नही संभले तो आने वाले समय में स्थिति और भी भयावह हो सकती है।

Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment