.....

कांग्रेस के 'असंतुष्ट विधायकों' को तोड़ने का विधायक महेश राय ने खुले मंच से दावा किया



भोपाल ! मध्य प्रदेश में कमलनाथ सरकार ने अपना एक साल का कार्यकाल पूरा कर लिया है। एक साल पूरा होने पर सरकार जश्न मना रही है। दूसरी ओर भाजपा के बीना से विधायक महेश राय ने एक बड़ा बयान दिया है जिससे सरकार में हलचल मच गई है। राय ने खुले मंच से कांग्रेस के 'असंतुष्ट विधायकों' को तोड़ने का दावा किया है। उन्होंने सागर में एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि, ' 'अंकगणित के बहुत नजदीक हैं. कई विधायक जो मंत्री नहीं बने हैं, वे भाजपा (BJP) नेताओं के संपर्क में हैं. दो विधायक तो राजगढ़ के पास के हमारे संपर्क में हैं, बोल रहे हैं कि भाई कोई जुगाड़-तुगाड़ तो करो. मैंने बोला कि 10 हो जाओ आप लोग, 10 हो गए तो आप में मंत्री भी बन जाएंगे और मंत्री के साथ में जो कुछ और भी हो सकता है वो भी होगा '
भाजपा की ओर से इस तरह के दावे पहले भी किए गए हैं।  नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव कई बार इस तरह के बयान दे चुके हैं। लेकिन विधानसभा में फ्लोर टेस्ट में कांग्रेस बहुमत साबित कर चुकी है। भाजपा के दो विधायकों ने कांग्रेस के पक्ष में क्रास वोटिंग की थी। उसके बाद से ही भाजपा की ओर से सारे दावे बंद हो गए थे। लेकिन एक बार फिर भाजपा विधायक महेश राय के इस दावे से कांग्रेस महकमें में हड़कंप मच गया है। भाजपा विधायक का कहना है कि राजगढ़ के पास के दो विधायक उनसे लगातार बातचीत कर रहे हैं. ऐसे में भाजपा विधायक ने कांग्रेस विधायकों को यह सलाह दी है कि अगर वे 10 से ज्यादा विधायकों को साथ ले लें, तो कुछ हो सकता है. भाजपा विधायक यहीं नहीं रुके उन्होंने कहा कि पूर्व सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया भी लगातार कांग्रेस से नाराज देखे जा रहे हैं। केपी सिंह भी अपनी नाराजगी जाहिर कर चुके हैं।

Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment