Cyclone Fani को लेकर ताजा अलर्ट, 'तितली' से ज्‍यादा बरपा सकता है कहर, तीनों सेनाएं मुस्तैद

नई दिल्‍ली :  Cyclone Fani भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के मुताबिक, दक्षिण-पूर्व बंगाल की खाड़ी में बना चक्रवाती तूफान 'फेनी' बुधवार तक बेहद खतरनाक रूप ले सकता है।

 यह 175-185 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से तटवर्ती इलाकों से टकरा सकता है। इसके संभावित खतरे को देखते हुए भारतीय तटरक्षक बल और नौसेना ने बचाव अभियानों के लिए अपने जहाज और हेलिकॉप्‍टर तैनात कर दिए हैं।

 भारतीय नौसेना हाई अलर्ट पर है। एनडीआरएफ ने भी राहत और बचाव कार्य के लिए अपनी 41 टीमें तैनात की हैं।

गृह मंत्रालय के नेशनल इमरजेंसी रिस्पांस सेंटर (एनइआरसी) की तरफ से ओडिशा, तमिलनाडु, केरल, पश्चिम बंगाल एवं आंध्र प्रदेश सहित तीन केंद्र शासित प्रदेशों अंडमान-निकोबार, पुडूचेरी एवं लक्ष्यद्वीप के लिए एडवाइजरी जारी की गई है।

 एडवाइजरी के मुताबिक मंगलवार की सुबह तक इसके बेहद खतरनाक साइक्लोनिक स्टर्म का रूप लेने का अनुमान किया गया है। एक मई शाम तक यह उत्तर-पश्चिम की तरफ गति कर सकता है। इसके बाद उत्तर पूर्व की दिशा में गति करते हुए ओडिशा की तरफ बढ़ने का अनुमान है।
ओडिशा, आंध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल में सेना और वायु सेना की इकाइयों को स्‍टैंड बाई पोजीशन पर रखा गया है। मौसम विज्ञान विभाग, भुवनेश्‍वर के निदेशक एचआर विश्‍वास ने बताया कि यह तूफान ओडिशा के तटवर्ती इलाकों से होते हुए पश्चिम बंगाल का रुख करेगा। 
उन्‍होंने लोगों से घरों में ही रहने की अपील की है। इसके साथ ही ट्रेन सेवाओं को निलंबित रखने या उनके मार्गों में बदलाव के सुझाव भी दिए हैं। विभाग की ओर से मछुआरों को समुद्र में नहीं जाने की सलाह दी गई है।
Share on Google Plus

click News India Host

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment