.....

J&K : सुरक्षा बलों ने पुलवामा में तीन और कुलगाम में एक आतंकी को मार गिराया

श्रीनगर  : जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में सुरक्षा बलों ने तीन आतंकियों को मार गिराया। मुठभेड़ स्थल पर आतंकियों के बचाव में लोगों ने सुरक्षा बलों पर पथराव किया। झड़प में चार लोग जख्मी हो गए। 
सीमावर्ती कुपवाड़ा जिले के त्रिहगाम में भी एक आतंकी मारा गया। उधर शोपियां जिले में आतंकियों ने सेना के एक गश्ती दल पर ग्रेनेड से हमला कर दिया। इसमें तीन जवान घायल हो गए। 
पुलवामा के मुख्य शहर के पास स्थित छतपोरा में आतंकियों के एक दल के मौजूद होने की सूचना मिली थी।
 इस इनपुट के बाद इलाके में सेना की 55 राष्ट्रीय राइफल्स, जम्मू-कश्मीर पुलिस की एसओजी और सीआरपीएफ के जवानों ने संयुक्त रूप से गहन तलाशी अभियान शुरू किया। 

तलाशी के दौरान ही एक मकान में छिपे आतंकियों ने सुरक्षा बलों पर फायरिंग शुरू की। इसके बाद ब़़डा ऑपरेशन चलाकर एक मकान में छिपे तीनों आतंकियों को ढेर कर दिया गया। 
इस बीच उपद्रवियों ने सुरक्षा बलों पर पथराव कर ऑपरेशन में खलल डालने की कोशिश की। लेकिन सीआरपीएफ के जवानों ने आंसू गैस के गोले दागकर भीड़ को खदेड़ दिया। उधर कुपवाड़ा के त्रिहगाम में सुबह 5.30 बजे हुई मुठभेड़ में एक दहशतगर्द मारा गया। 
पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि शोपियां के अहागाम क्षेत्र के कीगाम गांव में शुक्रवार सुबह जब सेना के जवान गुडविल पब्लिक स्कूल चालू कराने में व्यस्त थे, तभी उन पर आतंकियों ने ग्रेनेड दागा। 
हमले में तीन जवान घायल हो गए। उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उनकी हालत खतरे से बाहर बताई गई है। रहवासी क्षेत्र होने से सुरक्षा बलों ने अधिकतम संयम बरता, अन्यथा बड़ा नुकसान हो सकता था। पुलिस केस दर्ज कर हमलावर आतंकियों की तलाश कर रही है।
 कश्मीर के शोपियां जिले में शुक्रवार को आतंकी हमले में सेना के तीन जवान घायल हो गए। आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने हमले की जिम्मेदारी ली है।
 शुक्रवार तड़के शोपियां के अहगाम इलाके के निकट सेना की 44 राष्ट्रीय राइफल का दल इलाके में स्थित आर्मी गुडविल स्कूल की सुरक्षा में तैनात था।
इस दौरान वहां दो से तीन आतंकी आए और उन्होंने छिपकर सैन्य दल पर पहले हथगोला फेंका और इसके साथ ही गोलियों की बौछार कर दी। इस हमले में सेना के तीन जवान घायल हो गए।

Share on Google Plus

click News India Host

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment