.....

भारत और फ्रांस के बीच हुए 14 समझौते, PM मोदी बोले- जमीन से आसमान तक मिलकर कर रहे काम

 नई दिल्ली : फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों चार दिन के दौरे पर भारत में हैं. इस दौरान उन्होंने भारतीय पीएम नरेंद्र मोदी से मिलकर विभिन्न क्षेत्रों में 14 अहम समझौते किए. ये समझौते रेलवे, शहरी विकास, रक्षा, अंतरिक्ष आदि क्षेत्रों में किए गए.
इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, 'हम सिर्फ दो सशक्त स्वतंत्र देशों और दो विविधतापूर्ण लोकतंत्रों के ही नेता नहीं हैं, हम दो समृद्ध और समर्थ विरासतों के उत्तराधिकारी हैं.
उन्होंने कहा, 'हमारी (भारत-फ्रांस) रणनीतिक भागीदारी भले ही 20 साल पुरानी हो, हमारे देशों और हमारी सभ्यताओं की आध्यात्मिक साझेदारी सदियों लंबी है.'
साझा प्रेस कॉन्फ्रेस के दौरान ये भी कहा कि जमीन से आसमान तक कोई ऐसा विषय नहीं है जिसमें भारत और फ्रांस साथ मिलकर काम ना कर रहे हों.
पीएम मोदी ने कहा कि 'रक्षा, सुरक्षा, अंतरिक्ष और उच्च तकनीक में भारत और फ्रांस के द्विपक्षीय सहयोग का इतिहास बहुत लंबा है. सरकार किसी की भी हो, हमारे संबंधों का ग्राफ सिर्फ और सिर्फ ऊंचा ही जाता है.'
इसके आगे पीएम मोदी ने बताया, 'आज हमारी सेनाओं के बीच पारस्परिक लॉजिस्टिक सपोर्ट के समझौता हुआ है. इसे मैं हमारे घनिष्ठ रक्षा सहयोग के इतिहास में एक स्वर्णिम कदम मानता हूं.
पीएम मोदी ने कहा, 'हम चाहते हैं कि हमारे युवा एक दूसरे के देश को जानें, एक दूसरे के देश को देखें, समझें, काम करें, ताकि हमारे संबंधों के लिए हजारों उच्चायुक्त तैयार हों. इसलिए, आज हमने दो महत्वपूर्ण समझौते किए हैं.'
इनमें एक समझौता एक दूसरे की शिक्षा योग्यताओं को मान्यता देने का है और दूसरा माइग्रेशन और मोबिलिटी साझेदारी को गति देना है. ये दोनों समझौते हमारे देशवासियों के, हमारे युवाओं के बीच करीबी संबंधों का खाका तैयार करेंगे.
साझा प्रेस कॉन्फेंस में पीएम मोदी के बाद फांस के राष्ट्रपति मैक्रों ने कहा कि दोनों देशों के बीच ऐतिहासिक गठजोड़ है. इस दौरान उन्होंने आतंकवाद के खिलाफ साथ लड़ाई का भी आह्वान किया. 
उन्होंने कहा, 'दोनों देश आतंक और उसकी फंडिंग के खिलाफ लड़ेंगे.' उन्होंने कहा कि आतंकवाद एक बड़ा खतरा है और विश्व में शांति को बढ़ावा देने की जरूरत है.
इससे पहले, फ्रेंच राष्ट्रपति दिल्ली पहुंचने के बाद राजघाट गए और राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि दी. इस दौरान उनकी पत्नी ब्रिगित मैरी क्लाउड भी साथ रहीं. राजघाट पर बापू को नमन करने के बाद राष्ट्रपति मैक्रों ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मुलाकात की.

Share on Google Plus

click News India Host

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment