.....

राहुल गांधी ने कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए नामांकन दाखिल किया

राहुल ने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और पार्टी के वरिष्ठ नेताओं कमलनाथ, मोतीलाल वोरा, शीला दीक्षित, अहमद पटेल और अशोक गहलोत की मौजूदगी में नामांकन पत्र पर हस्ताक्षर किये. 
उन्होंने इस मौके पर उपस्थित नेताओं के साथ बातचीत की और उनकी शुभकामनाएं स्वीकार कीं.
राहुल का चुनाव मात्र औपचारिकता है क्योंकि पार्टी के शीर्ष पद के लिए कोई अन्य उम्मीदवार मैदान में नहीं है.
 राहुल पार्टी की अध्यक्ष अपनी मां सोनिया गांधी का स्थान लेंगे जिन्होंने सबसे लंबे समय तक कांग्रेस प्रमुख का पद संभाला है. सोनिया गांधी ने 1998 में कांग्रेस के अध्यक्ष का पद ग्रहण किया था.
कांग्रेस के सैकड़ों समर्थक पार्टी के शीर्ष पद के नामांकन दाखिल होने से पहले पार्टी कार्यालय में एकत्र हुए. राहुल गांधी जनवरी 2013 में कांग्रेस के उपाध्यक्ष बने थे.उधर, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पर जुबानी हमले करते हुए सोमवार को कांग्रेस पार्टी को एक सल्तनत बताया, जहां केवल एक ही परिवार राज कर सकता है.
 गुजरात में एक चुनावी रैली में मोदी ने कहा, यह एक ऐसा सल्तनत है, जहां केवल एक ही परिवार के लोग शासन करते हैं. मेरे लिए जनता सर्वोपरि है. हम विकास के आधार पर वोट मांगते हैं. आपने 2002, 2007, 2012 पिछले सभी चुनाव देखें, जहां कांग्रेस ने भाजपा की सिर्फ सांप्रदायिक छवि बनाने की कोशिश की.
कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोलते हुए कहा कि वह 'राहुल गांधी फोबिया' से पीड़ित हैं.
 कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने संवाददाताओं से कहा, प्रधानमंत्री राहुल गांधी फोबिया से पीड़ित क्यों हैं? वे इतने दबाव में क्यों हैं? उन्होंने सवाल किया, क्या मोदीजी बताएंगे कि वह अपनी पार्टी के वरिष्ठ नेताओं जैसे अरुण शौरी, यशवंत सिन्हा और शत्रुघ्न सिन्हा के सवालों का जवाब कब देंगे?
Share on Google Plus

click News India Host

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment