CM शिवराज सिंह चौहान ने मप्र के स्थापना दिवस पर अधिकारियों को किया सम्मानित

भोपाल : मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सरदार वल्लभ भाई पटेल उद्यान में हुए स्थापना दिवस के कार्यक्रम में अधिकारियों और कर्मचारियों को उत्कृष्टता पुरस्कार से सम्मानित किया। 
इस मौके पर उन्होंने कहा कि मैं मध्यप्रदेश का हूं और इस पर मुझे गर्व है। पहले यह राज्य बीमारू कहलाता था इसकी कोई विशिष्ट पहचान नहीं थी। लेकिन आज यह देश के अग्रिम पंक्ति के राज्यों में एक है।
10 साल से राजस्व सर प्लस राज्य विकास दर डबल डिजिट में बनी हुई है। कृषि विकास दर लगातार 20% के आस पास चल रही है। शहरी स्वच्छता के मामले में इंदौर भोपाल ने देश में मुकाम बनाया है।
 ग्रामीण विकास के क्षेत्र में तेजी से विकास हो रहा है, बड़ी तादाद में आवास बनाए जा रहे हैं। पर्यटन के क्षेत्र में 10 पुरस्कार हाल ही में मिले हैं। डेढ़ लाख किलोमीटर सड़कें बनाई गई हैं, पहले कभी बिजली सपना हुआ करती थी लेकिन आज हम सर प्लस की स्थिति में है।
लाडली लक्ष्मी योजना जैसी कई योजनाएं हैं जिन्होंने महिला सशक्तिकरण की दिशा में काम किया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि जब मैं अमेरिका दौरे पर गया था तो सीना तान कर कहा कि हम तेजी से आगे बढ़ रहे सड़क सिंचाई से लेकर हर क्षेत्र में काम हुआ है। विकास के कई सोपान हमने हासिल किए हैं।
मध्य प्रदेश में विकास की दिशा में लंबी छलांग लगाई है, दूसरे देश में जाकर उसकी तारीफ करने को मैं गुलामी की मानसिकता मानता हूं। तुम अच्छे होंगे पर हम भी कुछ कम नहीं अपने देश-प्रदेश और कर्म परंपरा पर हमें गर्व करना चाहिए।
उन्होंने कहा कि प्रदेशवासियों में यही गर्व की भावना पैदा करने के लिए ही स्थापना दिवस का कार्यक्रम इस तरह मनाने का हमने निर्णय लिया है। पहले स्थापना दिवस कब आया कब चला गया पता ही नहीं चलता था। 
हमारा मूल मंत्र सबका साथ सबका विकास, कर्मचारी कल्याण हमारी प्राथमिकता में शुरुआत से रहा है। कई फैसले लिए गए हैं पूर्व में जब केंद्र सरकार महंगाई भत्ता घोषित करती थी तो यहां उसे कब और कितना दिया जाता था यह किसी से छुपा नहीं है।
 हमने तय किया कि जिस दिन केंद्र सरकार कर्मचारियों को महंगाई आई भत्ता देगी उसी दिन से हम भी लागू करेंगे। सातवां वेतनमान भी हमने लागू किया कर्मचारियों का मध्य प्रदेश के विकास में अहम योगदान रहा है हमारे क्लर्क भाई बहुत काम करते हैं।
कर्मचारियों की समस्याओं को दूर करने के लिए कमेटी बनाई, उस पर विचार कर लिया है। जल्दी फैसला भी करेंगे अध्यापकों के लिए भी फैसले लिए गए हैं। पंचायत कर्मियों के भी मामले हैं और भी कई मुद्दे हैं जिन पर विचार किया जा रहा है। 
हम यह मानकर चलते हैं कि कर्मचारियों के बिना काम नहीं चल सकता है। यह हमारे बाजू हैं मुख्यमंत्री में कार्यक्रम में अधिकारी कर्मचारियों को संकल्प दिलाया कि वे प्रदेश के विकास में अपना योगदान देंगे मुख्यमंत्री ने प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्रियों का भी आभार जताया जिन्होंने प्रदेश के विकास में अपना योगदान दिया।
मंच से मुख्यमंत्री ने मुख्य सचिव को निर्देश दिए कि वह हर विभाग में व्यवस्था लागू करें कि 15 अगस्त 26 जनवरी और प्रदेश के स्थापना दिवस पर अच्छा काम करने वाले कर्मचारियों को पुरस्कृत करें।
इंदौर के एपीटीसी ग्राउंड पर मध्य प्रदेश स्थापना दिवस पर मुख्य कार्यक्रम आयोजित किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि माननीय लोक निर्माण मंत्री श्री रामपाल सिंह थे।
 कार्यक्रम में रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन हुआ। इसी तरह सेंधवा, रीवा सहित प्रदेश के सभी शहरों में स्थापना दिवस कार्यक्रम हर्ष के साथ मनाया गया। 
Share on Google Plus

click News India Host

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment