आतंकी हाफिज सईद की संयुक्त राष्ट्र में अर्जी, आतंकी लिस्ट से नाम हटाने की अपील

नई दिल्ली : 26/11 हमले का मास्टरमाइंड आतंकी हाफिज सईद ने संयुक्त राष्ट्र से अपील की है कि उसका नाम आतंकी लिस्ट से हटाया जाए. 

सईद कुछ दिन पहले ही पाकिस्तान में 10 महीने की नजरबंदी के बाद रिहा हुआ है. रिहाई से पहले इस आतंकी ने संयुक्त राष्ट्र में अर्जी देकर अपना नाम आतंकियों की लिस्ट से हटाने की अपील की.

 उसने दलील दी है कि उसके खिलाफ पाकिस्तानी अदालत में ना तो आतंकवाद ना कोई अन्य आरोप साबित हो पाया है. संयुक्त राष्ट्र ने जमात-उद-दावा के सरगना सईद को नवंबर 2008 में हुए मुंबई हमलों के बाद दिसंबर 2008 में आतंकी घोषित किया था.

हाफिज की अर्जी ‘मिर्जा एंड मिर्जा’ नाम की फर्म की ओर से दाखिल की गई है. जब ये अर्जी दी गई उस दौरान हाफिज नजरबंद था. संयुक्त राष्ट्र में दायर अर्जी में सईद ने खुद को समाजसेवक बताया है. 

हाफिज के लिए अर्जी दाखिल करने वाले नावेद रसूल मिर्जा पाकिस्तान के नेशनल अकाउंटबिलिटी ब्यूरो में वकील रह चुके हैं.

लाहौर की अदालत द्वारा सईद की हिरासत बढ़ाने से इनकार के बाद पाकिस्तान सरकार ने गुरुवार को सईद की नजरबंदी हटा दी थी. वह इसी साल जनवरी से नजरबंद था.
 31 जनवरी को पंजाब सरकार ने आतंकवाद रोधी कानून 1997 के तहत सईद और उसके चार सहयोगियों को 90 दिनों के लिए हिरासत में लिया था. लाहौर कोर्ट ने पर्याप्त सबूतों के अभाव में उसे रिहा करने का आदेश दिया था.
अमेरिका ने सईद की रिहाई पर नाखुशी जताई थी. अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पाकिस्तान को चेताते हुए कहा था कि जमात-उद-दावा के नेता हाफिज सईद की रिहाई का खामियाजा द्विपक्षीय संबंधों को भुगतना पड़ेगा. अमेरिका ने सईद के सिर पर एक करोड़ रुपए डॉलर का इनाम रखा है.
Share on Google Plus

click News India Host

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment