CM शिवराज सिंह ग्वालियर में करेंगे दीनदयाल रसोई योजना की शुरुआत


भोपाल : प्रदेश के शहरी गरीबों को शुक्रवार से जिला मुख्यालयों में सस्ती दर पर भोजन मिलेगा। इसके लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ग्वालियर में दीनदयाल रसोई योजना की शुरुआत करेंगे। 
इसका सीधा प्रसारण शाम छह बजे दूरदर्शन पर होगा। भोजन पांच रुपए में मिलेगा। रसोई सुबह 11 से दोपहर 3 बजे तक खुलेगी।
खाने का मेन्यू तय करने का अधिकार कलेक्टरों को दिया गया है, ताकि वे क्षेत्रीय जरूरत के हिसाब से निर्णय कर सकें।
 उमरिया और भिंड में उपचुनाव की आचार संहिता लागू होने से इन दोनों जिलों में फिलहाल योजना लागू नहीं होगी। वहीं, खेल एवं युवा कल्याण मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया शिवपुरी और पिछड़ा वर्ग राज्य मंत्री ललिता यादव श्योपुर में योजना का शुभारंभ करेंगी।
नगरीय विकास एवं आवास विभाग के अधिकारियों ने बताया कि योजना को पहले चरण में जिला मुख्यालयों में लागू किया जा रहा है। 
दूसरे चरण में अन्य शहरी क्षेत्रों को शामिल किया जाएगा। योजना में एक समय भरपेट भोजन मिलेगा। इसमें कोई भी गरीब व्यक्ति जाकर भोजन कर सकता है।
भोजन तैयार करने के लिए स्मार्ट किचन बनाए जाएंगे। भोजन केंद्रों में बिजली और पानी का इंतजाम संबंधित नगरीय निकाय करेगा। 
योजना को चलाने के लिए उद्योग विभाग से कॉर्पोरेट सोशल रिस्पॉन्सबिलिटी के तहत मिलने वाली राशि का सहयोग लिया जाएगा। साथ ही कोई व्यक्ति या संस्था इस काम में आर्थिक सहयोग देना चाहेगा तो उसे भी स्वीकार किया जाएगा।
योजना के लिए सार्वजनिक वितरण प्रणाली में बंटने वाले एक रुपए किलो के गेहूं और चावल का इस्तेमाल होगा। इसके लिए खाद्य, नागरिक आपूर्ति निगम को सरकार राशि उपलब्ध कराएगी। नगरीय विकास आयुक्त कार्यालय ने सरकार से इसके लिए 20 करोड़ रुपए मांगे हैं।
सरकार की मंशा है कि दीनदयाल रसोई को गैर शासकीय, धार्मिक, स्वयंसेवी कल्याणकारी संस्था या समाज के गणमान्य व्यक्ति चलाएं। 
इसके लिए नगरीय विकास विभाग ने खजराना, अन्न् क्षेत्र महाकाल, महावीर संस्था उज्जैन और प्रेरणा ट्रस्ट के प्रतिनिधियों से चर्चा की और इनकी व्यवस्थाओं को समझा। तय किया गया कि ऐसी ही संस्थाओं से संपर्क करके इन्हें काम लेने के लिए प्रेरित किया जाएगा।
दीनदयाल रसोई योजना के लिए स्थान का चयन जिला स्तर पर होगा। एक साथ शुक्रवार को पूरे प्रदेश में योजना का शुभारंभ होगा। ग्वालियर में मुख्यमंत्री इसकी शुरुआत करेंगे। 
- मलय श्रीवास्तव, प्रमुख सचिव, नगरीय विकास एवं आवास विभाग

Share on Google Plus

click News India Host

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment