गर्मी ने दिखाए अपने तेवर, मार्च महीने में ही टूट रहे हैं रिकॉर्ड

इस साल  मार्च महीने में ही गर्मी ने अपने तेवर  दिखाने शुरू कर दिए हैं. महाराष्ट्र में पारा अभी से रिकॉर्ड तोड़ने लगा है. यहां के कई शहरों में पारा 40 डिग्री के पार चला गया है. 

यहां के रायगढ़ ज़िले के भीरा गांव में मंगलवार को पारा 46.5 डिग्री दर्ज किया गया. महाराष्ट्र में गर्मी के कारण 5 लोगों की मौत हो गई है. इसे देखते हुए राज्य सरकार ने गाइडलाइन जारी की है. 

ज्यादा से ज्यादा पानी पीने पर दें. हल्के और सूती कपड़े पहनें. बाहर जाते समय चश्में, टोपी या छतरी और चप्पल का उपयोग करें. लस्सी, नींबू पानी, छाज का पिएं. पहले आधे दिन में ही बाहर या मजदूरी के कामों का निपटारा करें. 

छोटे बच्चों या पालतू जानवरों को पार्क किए गए वाहनों में नहीं छोड़ें. 12 बजे से 3.30 तक बाहर जाने से बचें. खाना बनाते समय घर के खिड़की या दरवाजे खोल कर रखें.

उधर, गुजरात के अहमदाबाद में भीषण गर्मी की वजह से येलो अलर्ट जारी कर दिया गया है. यहां का अधिकतम तापमान करीब 43 डिग्री दर्ज किया गया.

 वहीं राजधानी दिल्ली और उसके आसपास के इलाकों में बीते दो से तीन दिनों में तापमान में क़रीब 10 से 12 डिग्री का उछाल आया है और पारा सामान्य से 7 डिग्री तक ऊपर चला गया है.

मौसम विभाग ने अगले दो महीनों में पूरे देश में औसत से अधिक तापमान रहने की संभावना जताई है. 1901 के बाद बीता साल यानी 2016 सबसे गर्म साल था

. जब राजस्थान के पहलोड़ी में पारा 51 डिग्री दर्ज किया गया था. 2016 में आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में गर्मी से सबसे बुरा हाल रहा था. वहीं इस साल का जनवरी महीना 1901 के बाद आठवां सबसे गर्म महीना रहा है.
Share on Google Plus

click News India Host

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment