पहाड़ों पर बर्फबारी, शीतलहर ठिठुरन बढ़ी

पहाड़ों की बर्फबारी का रविवार को मैदानों में खासा असर दिखा है। पिछले एक हफ्ते से अच्छी धूप वाला मौसम अचानक शीतलहर जैसा हो गया। 

शिमला में 25 साल बाद क्रिसमस पर बर्फबारी, 4 दिन पहले गर्मी ने तोड़ा था 8 साल का रिकॉर्ड, शिमला में 25 साल बाद क्रिसमस के दिन सीजन की पहली बर्फबारी हुई।

3 दिनों तक रह सकती है धुंध, 28-31 दिसंबर तक मैदानों में बारिश, पहाड़ों पर बर्फबारी के आसार, मौसम विभाग (आईएमडी) के अनुसार अगले तीन दिनों तक प्रदेश में कहीं-कहीं गहरी धुंध पड़ सकती है।

दिन में दृश्यता बमुश्किल 25-30 मीटर रही। दिन का तापमान अचानक 6 डिग्री सेल्सियस तक गिर गया। 22 से 24 डिग्री सेल्सियस तक रहने वाला अधिकतम तापमान 15 से 16 डिग्री पर पहुंच गया।
अम्बाला, यमुनानगर, कुरुक्षेत्र और करनाल के कुछ हिस्सों में बारिश हुई। यमुनानगर में तो ओले भी गिरे हैं। लगभग 25 किलोमीटर की गति से बर्फीली हवा चली।

 हालांकि रात का पारा 5 डिग्री चढ़कर 12 तक पहुंच गया है लेकिन दिन में जबर्दस्त ठिठुरन रही। सूरज तो महज ढाई घंटे ही चमका। प्रदेश में नारनौल सबसे ठंडा रहा। यहां न्यूनतम तापमान 6.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

 मौसम में अचानक यह बदलाव पश्चिमी विक्षोभ के कारण आया है। पुरवाई चलने से शनिवार आधी रात को ही बादल छा गए थे। रविवार को भी पूरे दिन बादल छाए रहे।

 

Share on Google Plus

click News India Host

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment