PM मोदी के नोटबंदी के फैसले को जुआ बताया,सफल रहे या विफल मिसाल बनेगा यह कदम : चीनी मीडिया

बीजिंग :  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नोटबंदी के कदम को अत्यंत साहसिक बताते हुए चीनी आधिकारिक मीडिया ने कहा कि यह एक  जुआ है जो हर हाल में एक मिसाल पेश करेगा.

 चीनी मीडिया की ओर से यह भी कहा गया है कि भले ही यह कदम सफल रहे या विफल साबित हो, चीन भ्रष्टाचार पर इसके प्रभाव से सबक लेगा.

 सरकारी समाचार पत्र ‘ग्लोबल टाइम्स’ ने ‘मोदी टेक्स ए गैम्बल विद मनी रिफॉर्म’ शीर्षक से छपे लेख में कहा गया है कि मोदी का कदम बहुत साहसिक है. 

हम इस बात की कल्पना नहीं कर सकते कि यदि चीन 50 और 100 युआन के नोट बंद कर देता है तो चीन में क्या होगा. चीन में सर्वाधिक मूल्य का नोट 100 युआन है.

संपादकीय में कहा गया सूचना लीक होने से बचाने के लिए नोटबंदी संबंधी कदम के क्रियान्वयन को खतरे में डालते हुए योजना को गोपनीय रखना पड़ा.

 मोदी इस समय दुविधा की स्थिति में हैं क्योंकि इस सुधार का मकसद कालेधन को बेकार करना है लेकिन यह प्रक्रिया कोई नई नीति की शुरुआत से पहले जन समर्थन हासिल करने के प्रशासन के सिद्धांत के विपरीत है.

 इसमें कहा गया है कि भारत में 90 प्रतिशत से अधिक लेन देन नकद में किया जाता है, ऐसे में चलन में मौजूद 85 प्रतिशत नोटों के प्रतिबंधित होने से लोगों को दैनिक जीवन में बहुत मुश्किल का सामना करना पड़ रहा है.

 चीनी मीडिया ने यह भी कहा है कि अन्य शब्दों में, मोदी सरकार लंबी और कठिन सुधार प्रक्रिया को एक बार में करना चाहती है. संपादकीय में कहा गया है कि नोटबंदी मोदी के लिए जुआ है. 

उन्होंने सरकार की क्रियान्वयन क्षमता और भारतीय समाज की सहनशक्ति के स्तर दोनों पर इस उम्मीद से दाव लगाया है कि इस सुधार के लाभ नकारात्मक सामाजिक प्रभाव और गिरे हुए मनोबल पर भारी पड़ सकते हैं. इसमें कहा गया है कि भारत की ‘पश्चिमी शैली’ की लोकतांत्रिक प्रणाली में इस प्रकार के साहसिक कदमों के लिए कम ही स्थान है.
Share on Google Plus

click News India Host

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment