भारत-पाक DGMO ने हॉटलाइन पर की बातचीत

भारतीय सेना की जवाबी कार्रवाई के बाद भारत और पाकिस्तान के डीजीएमओ ने बातचीत की, जिसमें आतंकवादियों द्वारा भारतीय सैनिकों के शवों को क्षत-विक्षत किए जाने के अनैतिक कृत्य का मुद्दा उठा. 

पाकिस्तानी डीजीएमओ ने अनिर्धारित हॉटलाइन बातचीत के लिए अनुरोध किया था. भारतीय डीजीएमओ कार्यालय द्वारा जारी एक बयान में कहा गया है, उन्हें साफ सूचित किया गया है कि अगर पाकिस्तानी सेना द्वारा संघर्षविराम का उल्लंघन शुरू हुआ या पाकिस्तानी कब्जे वाले कश्मीर या भूभाग से आतंकवादियों द्वारा घुसपैठ का कोई प्रयास किया गया, तो इसका भारतीय सेना उचित जवाब देगी.

 भारतीय सैन्य अभियान महानिदेशक (डीजीएमओ) ले. जनरल रणबीर सिंह ने जम्मू-कश्मीर में पाकिस्तान की ओर से आतंकवादियों द्वारा घुसपैठ करने के प्रयासों तथा नियंत्रण रेखा के पास पाकिस्तान से घुसपैठ करने वाले आतंकवादियों द्वारा भारतीय सैनिकों के शवों को क्षत-विक्षत करने के अनैतिक कृत्य का मुद्दा उठाया.

इसमें कहा गया है कि पाकिस्तानी डीजीएमओ से अपने जवानों को नापाक गतिविधियों से दूर रहने के लिए सख्त नियंत्रण रखने को कहा गया.

बयान में कहा गया है, इससे नियंत्रण रेखा पर सामान्य स्थिति बहाल हो सकेगी. बयान का शीषर्क था, भारतीय सेना की जवाबी कार्रवाई के बाद पाकिस्तानी डीजीएमओ ने हॉटलाइन पर अनिर्धारित बातचीत का अनुरोध किया. पाकिस्तानी डीजीएमओ ने नियंत्रण रेखा पर भारतीय गोलीबारी के कारण अपने क्षेत्र में नागरिकों के हताहत होने के बारे में सूचना दी.

Share on Google Plus

click News India Host

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment